DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंक बंदी से 600 करोड़ का लेन-देन प्रभावित, परेशान रहे लोग

बैंक बंदी से 600 करोड़ का लेन-देन प्रभावित, परेशान रहे लोग

1 / 2इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए) की ओर से वेतन में सिर्फ दो प्रतिशत बढ़ोतरी के प्रस्ताव का विरोध कर रहे बैंककर्मियों ने बुधवार से दो दिवसीय हड़ताल शुरू कर...

बैंक बंदी से 600 करोड़ का लेन-देन प्रभावित, परेशान रहे लोग

2 / 2इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए) की ओर से वेतन में सिर्फ दो प्रतिशत बढ़ोतरी के प्रस्ताव का विरोध कर रहे बैंककर्मियों ने बुधवार से दो दिवसीय हड़ताल शुरू कर...

PreviousNext

इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए) की ओर से वेतन में सिर्फ दो प्रतिशत बढ़ोतरी के प्रस्ताव का विरोध कर रहे बैंककर्मियों ने बुधवार से दो दिवसीय हड़ताल शुरू कर दी। युनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) के बैनर तले हड़ताल के पहले दिन जिले के सभी 23 राष्ट्रीयकृत बैंकों की 250 शाखाओं में ताला लटका रहा। यूएफबीयू के जिला संयोजक प्रभात चौधरी के अनुसार पहले दिन की बैंक बंदी से लगभग 600 करोड़ रुपए का लेन-देन प्रभावित हुआ है। चौधरी ने हड़ताल को पूरी तरह सफल बताया है।

बैंक बंदी के कारण ग्राहकों को परेशानी झेलनी पड़ी। विभिन्न काम को लेकर सुबह से ही ग्राहक अपनी बैंक शाखा में पहुंचने लगे थे। वहां बैंक बंद मिला। लोगों को वापस लौटना पड़ा।

इसलिए की हड़ताल

हड़ताली बैंककर्मियों के अनुसार नवंबर 2017 से वेतनवृद्धि लंबित है। इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए) की ओर से वेतन में सिर्फ दो प्रतिशत वृद्ध का प्रस्ताव दिया गया है। एक नवंबर 2012 से 31 अक्तूबर 2017 तक बैंक कर्मचारियों के वेतन में 15 प्रतिशत तक बढ़ोतरी हुई थी। ऐसे में दो प्रतिशत की बढ़ोतरी के प्रस्ताव बैंककर्मियों के साथ मजाक करने जैसा है। इसी मुद्दे को लेकर यूएफबीयू ने हड़ताल की घोषणा की थी। यूएफबीयू बैंकिंग क्षेत्र में सक्रिय सभी नौ संगठनों का प्रतिनिधित्व करती है।

---------

फोटो- 30 गोपाल जी 7 से 8

जुलूस और सभा कर जताया विरोध

बैंककर्मियों ने जुलूस और सभा कर अपना विरोध जताया। यूएफबीयू के धनबाद जिला संयोजक प्रभात चौधरी के नेतृत्व में सिंडिकेट बैंक धनबाद शाखा से रैली निकाली गई, जो बैंक ऑफ इंडिया अंचल कार्यालय से शुरू हुई। रैली स्टेट बैंक धनबाद शाखा पहुंची और वहां सभा में तब्दील हो गयी। सभा की अध्यक्षता ईश्वर प्रसाद ने की। सभा के दौरान ईश्वर प्रसाद, यूएफबीयू के जिला संयोजक प्रताप चौधरी समेत कई वक्ताओं ने हड़ताल के कारणों, मांगों और बैंकिंग से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर प्रकाश डाला। मौके पर संजय विश्वास, नंद कुमार महाराज, तारक बनर्जी, सुनील कुमार ओझा, वीपी सिंह समेत कई लोग मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:600 crore transactions affected, bankrupt people