DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

5000 अंकों की होगी स्वच्छता सर्वेक्षण की परीक्षा

स्वच्छता सर्वेक्षण-2019 की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। केंद्र सरकार के निर्देश पर राज्य में भी तैयारी शुरू हो गई है। एक दिन पहले मुख्यमंत्री ने राज्य के सभी नगर निकायों के साथ बैठक कर तैयारी में जुटने का निर्देश दिया। इस बार चार हजार की जगह पांच हजार अंकों की प्रश्नावली स्वच्छता सर्वेक्षण में होगी।

रांची में मंगलवार को आयोजित बैठक में धनबाद के नगर आयुक्त चंद्रमोहन कश्यप, अपर नगर आयुक्त महेश संथालिया समेत सभी सिटी मैनेजर उपस्थित थे। पिछली बार धनबाद ने अपने ऊपर लगे सबसे गंदे शहर के दाग को धो दिया था। 2016 में धनबाद सबसे नीचे 73वें स्थान पर था, लेकिन 2017 में देश की दस लाख आबादी वाले शहरों की रैंकिंग में धनबाद को 33वां स्थान प्राप्त हुआ। इस बार टॉप-20 में आने के लिए धनबाद को और मेहनत करनी होगी। इसकी शुरुआत 15 सितंबर से राष्ट्रीय स्तर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे।

-------

गारबेज फ्री सिटी की होगी स्टार रेटिंग

पहली बार सर्वेक्षण में गारबेज फ्री सिटी के लिए स्टार रेटिंग दी जाएगी, जिसमें नालियों और जल निकायों की सफाई, प्लास्टिक और अपशिष्ट पदार्थों का प्रबंधन, निर्माण और विध्वंस कचरे का प्रबंधन जैसे घटक शामिल होंगे। स्वच्छ सर्वेक्षण-2019 में कुल अंकों का 20 प्रतिशत वेटेज स्टार रेटिंग सर्टिफिकेट को दिया गया है।

-------

इस बार कैसे होगा अंकों का विभाजन

सर्टिफिकेशन : 25 प्रतिशत

स्पेशल लेवल प्रोग्रेस : 25 प्रतिशत

डायरेक्ट ऑब्जर्वेशन : 25 प्रतिशत

पब्लिक फीडबैक : 25 प्रतिशत

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 5000 marks will be sanitation survey exam