10 colleges face recognition for BVMKU recognition - 10 कॉलेजों की नैक मान्यता बीवीएमकेयू के लिए चुनौती DA Image
15 दिसंबर, 2019|2:50|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

10 कॉलेजों की नैक मान्यता बीवीएमकेयू के लिए चुनौती

default image

बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय के समक्ष धनबाद व बोकारो के 10 कॉलेजों का नैक (नेशनल एसेसमेंट एंड एक्रीडेशन काउंसिल) कराना चुनौती है। 10 कॉलेजों में दो अंगीभूत कॉलेज ऐसे हैं, जिनका नैक आज तक हुआ ही नहीं है। ऐसे में विश्वविद्यालय में इसे लेकर रोजाना मंथन करते हुए रणनीति बनाई जा रही है। नैक सभी 10 कॉलेजों के लिए जरूरी है। इस कारण उच्च शिक्षा निदेशालय ने सात दिसंबर को विश्वविद्यालय स्तर पर कार्यशाला का निर्देश दिया है।

पीके राय कॉलेज में कार्यशाला का संभावित है। नैक कितना जरूरी है? इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि विश्वविद्यालय प्रबंधन ने सिंडिकेट की बैठक छह से बढ़ाकर 10 दिसंबर कर दी है। उच्च शिक्षा निदेशालय ने विवि को पत्र भेजकर स्पष्ट कर दिया है कि पांच जनवरी तक संबंधित कॉलेजों को नैक वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन पूरा कराना होगा। 31 मई तक सभी प्रक्रियाएं पूरी करनी होगी। इसके लिए शिड्यूल भी जारी कर दिया गया है। अंदरखाने चर्चा है कि इसे गंभीरता से नहीं लेने पर आनेवाले समय में अनुदान बंद करने के साथ ही अन्य कड़ाई की जा सकती है। पीके राय कॉलेज ने दूसरे चरण के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है। प्राचार्य डॉ. बीके सिन्हा का कहना है कि हम इसके लिए कटिबद्ध हैं। जानकारों का कहना है कि नैक ग्रेडिंग की मान्यता पूरी तरह से बदल गई है। अब नैक टीम की ओर से औचक निरीक्षण कर सुविधाओं का जायजा लिया जाता है। कार्यशाला में नैक ग्रेडिंग में हुए बदलाव की जानकारी दी जाएगी।

ये कॉलेज शामिल : बीएसके मैथन, आरएस मोर कॉलेज गोविंदपुर, पीके राय कॉलेज (दूसरा चरण) तथा एफलिएटेड कॉलेजों में राजगंज डिग्री कॉलेज, बाघमारा कॉलेज, जेएसएम कॉलेज फुसरो, तेनुघाट कॉलेज, राजेन्द्र प्रसाद सिंह डिग्री कॉलेज चंद्रपुरा, डीएवी महिला कॉलेज कतरासगढ़ व पीएनएम कॉलेज गोमो।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:10 colleges face recognition for BVMKU recognition