ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड देवघरआसनसोल-जसीडीह-पटना स्टेशन तक चौथी लाइन

आसनसोल-जसीडीह-पटना स्टेशन तक चौथी लाइन

- आसनसोल-जसीडीह-पटना से दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन तक तीसरी, भागलपुर-हंसडीहा-दुमका-रामपुरहाट तक दूसरी लाइन - आसनसोल-जसीडीह-पटना से दीनदयाल उपाध्याय...

आसनसोल-जसीडीह-पटना स्टेशन तक चौथी लाइन
हिन्दुस्तान टीम,देवघरWed, 19 Jun 2024 01:00 AM
ऐप पर पढ़ें

देवघर कार्यालय संवाददाता
आने वाले दिनों में संतालपरगना क्षेत्र के रेल यात्रियों को काफी सुविधा मिलने जा रही है। इतना ही नहीं प्रमंडल क्षेत्र के हजारों लोगों के लिए रोजगार के नये साधन भी खुलने वाले हैं। दरअसल तेजी से क्षेत्र के लिए हो रहे डेवलपमेंट में रेलवे ने और अधिक नए काम करने का निर्णय लिया है। गोड्डा लोकसभा क्षेत्र के भाजपा सांसद डॉ. निशिकांत दुबे ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स के माध्यम से जानकारी साझा की है कि आसनसोल-जसीडीह-पटना से दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन तक तीसरी लाइन बनेगी। आसनसोल-जसीडीह-पटना स्टेशन तक चौथी लाइन बनेगी। भागलपुर-हंसडीहा-दुमका-रामपुरहाट तक दूसरी लाइन बनेगी। जसीडीह व तुलसीटांड़ स्टेशन के बीच फ्रेट मल्टी मॉडल हब यानि माल ढुलाई का केंद्र बनेगा, इसके बनने से हज़ारों लोगों को रोज़गार मिलेगा। इसी लाइन पर भागलपुर, हंसडीहा, दुमका व रामपुरहाट में रेलवे बाइपास बनेगा। गोड्डा से भागलपुर जाने वाली, गोड्डा से बासुकिनाथ जाने वाली गाड़ी को अब हंसडीहा या दुमका में इंतज़ार नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने जानकारी दी है कि कुल 5 हज़ार करोड़ की लागत से यह सभी कार्य कराए जाएंगे। सांसद ने कहा है कि पिछले 75 साल में पिछड़े क्षेत्रों के लिए यदि यह सोच मोदी जी के अलावा किसी प्रधानमंत्री की होती तो ग़रीबी, पिछड़ापन, विस्थापन व पलायन हमें नहीं झेलना पड़ता। इसके लिए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव का आभार जताया है।

दुमका से नहीं, मदनपुर से होगी कोयला ढुलाई, 44 करोड़ रुपए निर्गत : उपराजधानी दुमकावासियों की पुरानी मांग अब पूरी होने जा रही है। दुमका से कोयला ढुलाई बंद करने की मांग है। दुमका रेलवे स्टेशन के आसपास के लोग कोयला ढुलाई के कारण हो रही समस्या से परेशान थे। पिछले दिनों दुमका पटना ट्रेन उद्घाटन के दौरान गोड्डा सांसद डॉ. निशिकांत दुबे के समक्ष लोगों ने अपनी समस्या रखी थी। उसके बाद अब उनकी समस्यायों को दूर करने का फैसला रेलवे की ओर से लिया गया है। सांसद डॉ. निशिकांत दुबे ने बताया कि कोयला ढुलाई से रेलवे स्टेशन के आसपास के लोग डस्ट से बीमार हो रहे थे। कहा कि हमने वादा किया था इस ढुलाई को हटा देंगे। हमने वादा पूरा किया। अब ढुलाई दुमका से नहीं मदनपुर से होगी। सांसद ने कहा कि मैं जब दुमका पटना ट्रेन के उद्घाटन के लिए दुमका पहुंचा था, तो दुमका के लोग काफ़ी उद्वेलित कोयला ढुलाई को लेकर थे। रेलवे स्टेशन के आसपास के लोग कोयला डस्ट से बीमार हो रहे थे। सांस की समस्या बढ़ रही थी। मोदी गारंटी का वादा हमने किया था कि ढुलाई को हम हटा देंगे। वादा पूरा हुआ रेलवे ने 44 करोड़ रुपए मदनपुर के लिए जारी किया। कुछ दिनों में यह कोयला ढुलाई दुमका के बदले मदनपुर से होगा। इसके लिए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव का आभार जताते हुए अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर लिखा है कि भाजपा वोट की नहीं जनता के विश्वास की राजनीति करती है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।