DA Image
11 अप्रैल, 2020|12:47|IST

अगली स्टोरी

देवघर एम्स का पटना एम्स के डिप्टी डायरेक्टर सहित डीसी ने लिया जायजा

देवघर एम्स में शैक्षणिक सत्र जल्द शुरू करने को लेकर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, पटना के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. पीके सिंह, परिमल सिन्हा, डीन एम्स, पटना पीपी गुप्ता, अधीक्षण अभियंता डीके सिन्हा के साथ अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के सदस्य द्वारा वैकल्पिक पढ़ाई हेतुु चयनित पंचायत प्रशिक्षण केन्द्र, जसीडीह का स्थल निरीक्षण किया गया।

स्थल निरीक्षण के दौरान टीम द्वारा सभी आधारभूत संरचनाओं के साथ बिजली, पानी, शौचालय, साफ, सफाई आदि की सुदृढ़ व्यवस्था को लेकर वस्तुस्थिति से अवगत हुए। सभी सुविधाओं के साथ कैंपस में सुरक्षा के दृष्टिकोण से कई बिंदुओं पर विस्तृत चर्चा हुई। पर्याप्त संख्या में कक्षाएं, लेक्चर हॉल, प्रयोगशाला, ऑडिटोरियम के साथ छात्र-छात्राओं के लिए अलग-अलग हॉस्टल की व्यवस्थाओं को जल्द दुरुस्त करने की बात कही गयी। कक्षा संचालन व व्यवस्थाओं के संदर्भ में सभी संभावित बिन्दुओं पर चर्चा की गयी। इस दौरान डॉ. पी के सिंह ने जानकारी दी कि सत्र इसी वर्ष के जुलाई माह से आरंभ हो जाएगी। प्रथम सत्र में एनाटोमी, फिसियोलजी, मिक्रोबिलोजी, कम्युनिटी मेडिसिन की पढ़ाई होगी। वहीं दूसरे सत्र में पैथोलजी, माइक्रो-बायोलजी, फॉरेंसिक मेडिसिन एवं टक्सिकोलजी, फॉर्माकोलजी आदि की पढ़ाई शुरू होगी। फिलहाल 50 सीटों पर दाखिले की अनुमति मिल चुकी है। जब एम्स भवन पूरी तरह बनकर तैयार हो जाएगा तब सात विभागों की पढ़ाई आरंभ की जाएगी। उन्होंने जानकारी दी कि देवघर एम्स में प्रति वर्ष 100 छात्रों का एमबीबीएस में दाखिला प्रस्तावित है। इसके अलावे नर्सिंग कॉलेज में प्रतिवर्ष बीएससी नर्सिंग में 60 छात्रों का दाखिला होगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:DC including the Deputy Director of Patna AIIMS