DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  देवघर  ›  बारिश के बाद मनरेगा सिंचाई कूप पूर्ण कराना चुनौती
देवघर

बारिश के बाद मनरेगा सिंचाई कूप पूर्ण कराना चुनौती

हिन्दुस्तान टीम,देवघरPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:21 AM
बारिश के बाद मनरेगा सिंचाई कूप पूर्ण कराना चुनौती

बारिश के बाद मनरेगा सिंचाई कूप पूर्ण कराना चुनौती

मारगोमुंडा प्रतिनिधि

प्रखंड मुख्यालय सहित इसके आसपास के इलाके में हो रही रुक-रुक कर बारिश के बाद प्रखंड के मारगोमुंडा महजोरी, लहरजोरी, बाघमारा, बंसीमी, सुग्गापहाड़ी, पंदनिया, चेतनारी, महुआटांड़, मुरलीपहाड़ी आदि सभी पंचायतों में मनरेगा योजना के तहत संचालित सिंचाई कूप का कार्य अधर में है। बारिश के बाद सिंचाई कूप पूर्ण कराना पंचायत व प्रखंडकर्मियों के लिए चुनौती बन गई है। बताया जाता है कि पंचायतों में अभी महज 20 फ़ीसदी सिंचाई कूप की खुदाई हो पायी थी। जबकि इसी बीच बारिश के बाद कई कूप धंसने लगा है, तो वहीं कई कूपों में बारिश का पानी भर गया है, जिसके चलते अब सिंचाई कूप की खुदाई पूर्ण करना मुश्किल साबित हो रहा है। हालांकि पंचायत व प्रखंडकर्मियों को बीडीओ संतोष कुमार चौधरी द्वारा स समय सिंचाई कूप का कार्य पूर्ण कराने को लेकर कई बार हिदायत दी गई। बावजूद सिंचाई कूप का कार्य सुस्त गति से चल रहा है जिसके चलते अब इस वर्ष 20 फ़ीसदी सिंचाई कूप का कार्य पूर्ण कराना चुनौती बन गया है। बताया जाता है कि मनरेगा मजदूरों को ससमय मजदूरी का भुगतान नहीं होने से मनरेगा के तहत चल रहे सभी तरह के कार्य प्रभावित हो रहे हैं। मनरेगा मजदूरों के मजदूरी का भुगतान कई महीनों का भुगतान बकाया है। मनरेगा मजदूरों का मजदूरी बकाया रहने से मजदूरों को इन दिनों करोना काल में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। मनरेगा मजदूरों ने सरकार से शीघ्र बकाया मजदूरी का भुगतान कराने की गुहार लगायी है।

संबंधित खबरें