ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड देवघरनीट परीक्षा गड़बड़ी मामले में देवघर के देवीपुर से 6 गिरफ्तार

नीट परीक्षा गड़बड़ी मामले में देवघर के देवीपुर से 6 गिरफ्तार

- बिहार के नालंदा के छविलापुर, दरायपशुराय, नूरसराय व एकंगरसराय के सभी आरोपी - बिहार के नालंदा के छविलापुर, दरायपशुराय, नूरसराय व एकंगरसराय के सभी...

नीट परीक्षा गड़बड़ी मामले में देवघर के देवीपुर से 6 गिरफ्तार
default image
हिन्दुस्तान टीम,देवघरSun, 23 Jun 2024 01:45 AM
ऐप पर पढ़ें

देवघर, कार्यालय संवाददाता
मेडिकल में दाखिले की प्रवेश परीक्षा नीट में गड़बड़ी व पेपर लीक मामले में देवघर से छह संदिग्धों की गिरफ्तारी हुई है। गुप्त सूचना के आधार पर जिले के देवीपुर थाना क्षेत्र के एम्स के निकट झुनु सिंह नामक व्यक्ति के घर से शुक्रवार की देर रात पटना पुलिस ने देवीपुर थाना प्रभारी अशोक कुमार व पुलिसबलों के सहयोग से संदिग्धों को दबोचा।

पटना के शास्त्री नगर थाना में नीट में गड़बड़ी से संबंधित दर्ज मामले के संदिग्ध नालंदा जिला के छविलापुर थाना के बेलदार विगहा निवासी पंकू कुमार, पिता महेंद्र प्रसाद व परमजीत सिंह उर्फ बिट्टू, पिता प्रकाश कुमार, नालंदा के दरायपशुराय थाना अंतर्गत गुलरिया, विगहा निवासी चिंटू उर्फ बालदेव कुमार, पिता ओमप्रकाश प्रसाद, नालंदा के नूरसराय थाना अंतर्गत दरुआरा निवासी काजू उर्फ प्रशांत कुमार, पिता स्व. रामचंद्र प्रसाद, नालंदा के एकंगरसराय थाना अंतर्गत लोदीपुर निवासी अजीत कुमार, पिता पंकज प्रसाद व नालंदा जिला के ही एकंगरसराय थाना अंतर्गत कुंडवायर निवासी राजीव कुमार उर्फ कारू, पिता सुरेंद्र प्रसाद को गिरफ्तार किया गया है। कानूनी प्रक्रिया पूरी करने के बाद पटना पुलिस सभी आरोपियों को अपने साथ ले गई।

जानकारी के अनुसार दरुआरा निवासी काजू उर्फ प्रशांत कुमार देवीपुर में गार्ड के रूप में पहले से काम कर रहा था। वहीं उसके कमरे में ही पुलिस के हत्थे चढ़े अन्य पांचों संदिग्ध दो दिन पहले ही आकर रुके थे। पुलिस का मानना है कि शास्त्री नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद उक्त मामले से जुड़े सभी संदिग्ध गिरफ्तारी के डर से नालंदा से भागकर देवीपुर में अपने परिचित के कमरे में छिपने के लिए पहुंचे थे। यहां पर दो दिनों तक वे लोग छिपकर रहे भी, लेकिन मामले की जांच में जुटी बिहार पुलिस को इसकी सूचना मिल गई। बिहार पुलिस ने देवीपुर पहुंचकर स्थानीय पुलिस के सहयोग से झुनु सिंह के घर में गार्ड काजू उर्फ प्रशांत कुमार के कमरे से सभी को धर दबोचा। हालांकि पुलिस इस मामले को लेकर कुछ भी बोलने से परहेज कर रही है। एसडीपीओ ऋत्विक श्रीवास्तव का कहना है कि देवीपुर पुलिस के सहयोग से पटना पुलिस को बड़ी सफलता मिली है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।