ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंड चक्रधरपुरचक्रधरपुर रेल मंडल में मनाया गया गणतंत्र दिवस, डीआरएम ने फहराया तिरंगा, गिनाई रेलवे की उपलब्धियां

चक्रधरपुर रेल मंडल में मनाया गया गणतंत्र दिवस, डीआरएम ने फहराया तिरंगा, गिनाई रेलवे की उपलब्धियां

चक्रधरपुर रेल मंडल में अब तक चालू वित्तीय वर्ष में 107.45 मिलियन टन का की माल ढुलाई हुई है जिससे रेल मंडल को 9,424.72 करोड़ रूपये का राजस्व प्राप्त...

चक्रधरपुर रेल मंडल में मनाया गया गणतंत्र दिवस, डीआरएम ने फहराया तिरंगा, गिनाई रेलवे की उपलब्धियां
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,चक्रधरपुरSat, 28 Jan 2023 01:51 AM
ऐप पर पढ़ें

चक्रधरपुर, संवाददाता। चक्रधरपुर रेल मंडल में अब तक चालू वित्तीय वर्ष में 107.45 मिलियन टन का की माल ढुलाई हुई है जिससे रेल मंडल को 9,424.72 करोड़ रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ है। उक्त बातें डीआरएम अरुण जातोह राठौड़ ने गणतंत्र दिवस समारोह को संबोधित करते हुए कही। गुरुवार को रेल नगरी चक्रधरपुर में भी धूमधाम से रा्ट्रिरय त्योहार गणतंत्र दिवस मनाया गया। चक्रधरपुर के सेरसा स्टेडियम में डीआरएम ने झंडातोलन किया फिर परेड का निरिक्षण किया।

मौके पर आरपीएफ के महिला पुरुष जवान, भारत स्काउट एंड गाइड, रेलवे इग्लिश मीडियम स्कूल और संत जॉन एम्बुलेंस द्वारा परेड की गयी। वहीँ डीआरएम ने परेड को सलामी दी। कार्यक्रम के दौरान स्कूली बच्चों ने रंगारंग देशभक्ति सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश कर लोगों में देशभक्ति की भावना को जागृत किया। कार्यक्रम के माध्यम से दर्शाया गया की कैसे देश के सुरक्षाबलों के जवान देश की सुरक्षा में अपनी आहुति देते हैं। कार्यक्रम में डीआरएम ने चक्रधरपुर रेल मंडल की उपलब्धियां गिनाई और कहा की चक्रधरपुर रेल मंडल के अधिकारी और कर्मचारी के निष्ठा और ईमानदारी से काम करने के बदौलत भारतीय रेल प्रगति के मार्ग पर अग्रसर है। उन्होंने बताया की जहाँ माल ढुलाई से रेल मंडल रिकोर्ड तोड़ रही है वहीं इस आय से देश का राजस्व भी तेजी से बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि चक्रधरपुर रेल मंडल में यात्री ट्रेन से 280.23 करोड़ और विविध आय से 6.00 करोड़ एवं टिकट चेकिंग से 13.46 करोड़ की कमाई की है। चक्रधरपुर रेल मंडल के विभिन्न स्टेशनों पर ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाई गई है। आरपीएफ के सदस्यों ने ऑपरेशन नन्हे फरिश्ते और मेरी सहेली के तहत 31 रेल यात्रियों की जान बचाई. इसके अलावे 227 लड़कों, 232 लड़कियों और 30 पुरूषों को भी बचाया गया है। वहीं टाटानगर, चक्रधरपुर और चाईबासा में लाउन्ज ओन व्हील्स शुरू करने पर भी काम किया जा रहा है। मौके पर रेल मंडल के तमाम अधिकारी, स्कूल के छात्र, और रेलकर्मी बड़ी संख्या में मौजूद थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।