DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस की निगरानी में रेलवे ट्रैक पार कर रहे लोग

पुलिस की निगरानी में रेलवे ट्रैक पार कर रहे लोग

चक्रधरपुर के रेलवे पोर्टरखोली पश्चिमी केबिन के पास पुलिस की निगरानी में लोग रेलवे ट्रैक पार कर रहे हैं। इन दिनों पोर्टरखोली क्षेत्र में जन्माष्टमी मेला लगा हुआ है। रोजना इस क्षेत्र से आना-जाना करने वालों के अलावे पोर्टरखोली में लगे मेला में पहुंचने वाले लोग इस रेलवे ट्रैक का इस्तेमाल कर रहे हैं। इस ट्रैक पर हमेशा ट्रेनों का आना-जाना लगा रहता है। इसे देखते हुये रेलवे पुलिस प्रशासन की ओर से ट्रैक के आसपास जवानों को तैनात किया गया है ताकि किसी प्रकार की बड़ी घटना न हो।

पानपोस नदी की घटना को लेकर बरती जा रही सतर्कता : चक्रधरपुर रेलवे मंडल के राउरकेला सेक्शन के पानपोस रेलवे स्टेशन के समीप स्थित रेलवे पुलिया पर पिछले दिनों घोघड़धाम में जल चढ़ाकर आ रहे एक ही परिवार के चार सदस्यों की मौत ट्रेन की चपेट में आने से हो गई थी। चक्रधरपुर में लगे जन्माष्टमी मेला को देखते हुये विशेष सतकर्ता बरती जा रही है।

एक दशक पूर्व से लोग उक्त रास्ते का करते हैं प्रयोग : पोर्टखोली के पश्चिमी केबिन से रेलवे स्टेशन, इतवारी बाजार,रेलवे अस्पताल लोगों का एक दशक पूर्व से ही आना-जाना है। इसी रास्ते का उपयोग आने-जाने के लिए पोर्टरखोली में रहने वाले तमाम रेलकर्मी प्रयोग करते आ रहे हैं।

रेलवे ने खोल रखा है एक्सट्रेंशन बुकिंग काउंटर : रेलवे की ओर से पोर्टरखोली पश्चिमी रेलवे केबिन में एक्सटेंशन बुकिंग काउंटर भी खोला गया है। यात्रियों की सुविधा को देखते हुये ऐसा किया गया है। बड़ी संख्या में रोजाना लोग इस बुकिंग काउंटर में टिकट लेने के बाद रेलवे ट्रैक पार कर स्टेशन पर जाते हैं।

नहीं लगाया गया है कोई नोटिस बोर्ड : पोर्टरखोली पश्चिमी रेलवे केबिन के पास लोगों की ट्रैक से आवाजाही रोकने के लिए किसी प्रकार का कोई नोटिस बोर्ड नहीं लगाया गया है। इस संबंध में आरपीएफ के ओसी एमके साहू ने बताया कि नोटिस बोर्ड लगाना इंजीनियरिंग विभाग की जिम्मेवारी है।

सिर्फ रेलवे कर्मचारियों के लिए है रास्ता : चक्रधरपुर आरपीएफ ओसी एमके साहू से पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि सिर्फ रेलवे कर्मचारी ही पोर्टरखोली रेलवे केबिन के समीप रेलवे ट्रैक पार कर सकते हैं। चक्रधरपुर की पोर्टरखोली, लोको इत्यादि क्षेत्र में रहने वाले रेल कर्मचारियों को इस रास्ते का इस्तेमाल करना है। आम लोगों की आवाजाही रोकने के लिए जवानों को तैनात किया गया है, साथ ही लोगों को सुरक्षा के प्रति जागरूक भी किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:People crossing railway track in police surveillance