Mamta vehicle does not reach, woman gives birth at home - नहीं पहुंचा ममता वाहन, महिला ने घर मे दिया बच्चे को जन्म DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नहीं पहुंचा ममता वाहन, महिला ने घर मे दिया बच्चे को जन्म

आनंदपुर में ममता वाहन नहीं पहुंचने के कारण एक महिला ने घर मे बच्ची को जन्म दिया। बाद में महिला की हालत गंभीर होने के कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराया ,जहां नवजात बच्ची का व महिला का ईलाज किया जा रहा है। चिकित्सकों के अनुसार फिलहाल महिला व बच्ची दोनों पूर्ण रूप से स्वस्थ है।

क्या है मामला : आनंदपुर प्रखंड की झारबेड़ा के गेल टोला निवासी कीड़ा खलखो की पत्नी सुनीता खलखो की शनिवार सुबह लगभग पांच बजे प्रसव पीड़ा होने लगी। इसके बाद कीड़ा ने उसे अस्पताल ले जाने के लिए गांव की स्वास्थ्य सहिया जसमनी धनवार को पहले फोन कर व उसके बाद उसके घर जाकर अपनी पत्नी की हालत खराब होने की जानकारी दी। जहां जसमनी ने उसे कहा कि मैं कुछ देर में आ रही हूं लेकिन लगभग एक घंटा बीत जाने के बावजूद न तो सहिया पहुंची और न ही ममता वाहन। इसके बाद सुनीता की हालत और बिगड़ता देख आसपास की महिलाओं ने किसी तरह सुनीता का प्रसव घर मे ही करा दिया, लेकिन सुनीता की हालत में कोई सुधार नहीं हुआ,इस कारण कीड़ा खलखो ने भाड़े में गाड़ी बुककर उसे किसी तरह मनोहरपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। जहां महिला व बच्चे का ईलाज किया जा रहा है,दोनों स्वस्थ है। इधर ममता वाहन नहीं पहुंचने व सुनीता की हालत खराब होने को लेकर सुनीता के पति ने सहिया पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

सहिया की लापरवाही से पत्नी की हालत बिगड़ी : सुनीता के पति कीड़ा खलखो ने कहा की सहिया जसमनी धनवार की लापरवाही की वजह से उसकी पत्नी की हालत खराब हो गई। कहा कि उसके घर से जसमनी का घर लगभग 500 मीटर दूर है। बावजूद इसके सहिया समय पर उसके घर नहीं पहुंची और न ही ममता वाहन आया। उसने कहा कि मामले की शिकायत उच्च अधिकारियों से भी करेंगे।

ममता वाहन को फोन किया था : इधर सहिया जसमनी धनवार ने अपने ऊपर लापरवाही के आरोप को खारिज किया है। कहा कि उसने ममता वाहन को फोन किया था,जहां ममता वाहन के चालक ने एक घंटे में आने की बात कही थी। लेकिन घर वाले महिला को निजी वाहन में ले गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mamta vehicle does not reach, woman gives birth at home