DA Image
27 फरवरी, 2021|9:37|IST

अगली स्टोरी

लेवी के लिए नक्सलियों ने फूंक डाले कंस्ट्रक्शन कंपनी के पांच वाहन

लेवी के लिए नक्सलियों ने फूंक डाले कंस्ट्रक्शन कंपनी के पांच वाहन

1 / 3सोनुवा थाना क्षेत्र के कूदाबुरु गाँव सेरेंगदा टोला के पास सोमवार दोपहर करीब साढेे बारह बजे नक्सलियों एक जेसीबी एवं चार टैक्टर फूँक डाला। जेसीबी एवं टैक्टर नहर के निर्माण कार्य में लगे थे। घटनास्थल...

लेवी के लिए नक्सलियों ने फूंक डाले कंस्ट्रक्शन कंपनी के पांच वाहन

2 / 3सोनुवा थाना क्षेत्र के कूदाबुरु गाँव सेरेंगदा टोला के पास सोमवार दोपहर करीब साढेे बारह बजे नक्सलियों एक जेसीबी एवं चार टैक्टर फूँक डाला। जेसीबी एवं टैक्टर नहर के निर्माण कार्य में लगे थे। घटनास्थल...

लेवी के लिए नक्सलियों ने फूंक डाले कंस्ट्रक्शन कंपनी के पांच वाहन

3 / 3सोनुवा थाना क्षेत्र के कूदाबुरु गाँव सेरेंगदा टोला के पास सोमवार दोपहर करीब साढेे बारह बजे नक्सलियों एक जेसीबी एवं चार टैक्टर फूँक डाला। जेसीबी एवं टैक्टर नहर के निर्माण कार्य में लगे थे। घटनास्थल...

PreviousNext

प. सिंहभूम के सोनुवा थाना से मात्र आठ किमी की दूरी पर दिनदहाड़े नक्सलियों ने लेवी के लिए नहर निर्माण कार्य में लगे जेसीबी समेत पांच वाहनों को फूंक डाला। घटना सोमवार दोपहर साढ़े बारह बजे नक्सल प्रभावित क्षेत्र के कूदाबुरु गांव के सेरेंगदा टोला से कुछ दूरी पर पहाड़ के पास की है। नहर निर्माण कार्य चक्रधरपुर की केडी कंस्ट्रक्शन नामक कंपनी करा रही है।

25-30 नक्सलियों ने दिया घटना को अंजाम : सूचना के अनुसार सोमवार दोपहर साढ़े बारह बजे 25-30 की संख्या में हथियारबंद नक्सली नहर निर्माण कार्यस्थल पर आ धमके। नहर निर्माण में लगे जेसीबी एवं ट्रैक्टर चालकों के मोबाइल को कब्जे में ले लिया और डीजल छिड़कर एक जेसीबी एवं चार ट्रैक्टरों को फूंक डाला। इधर, घटना की सूचना मिलने पर एसपी अनिश गुप्ता के नेतृत्व में पुलिस शाम करीब चार बजे घटना स्थल पर पहुंची और जायजा लिया। खबरों के अनुसार नक्सलियों ने लेवी नहीं मिलने पर घटना को अंजाम दिया।

सुरक्षा के दृष्टिकोण से पैदल गई पुलिस : घटनास्थल नक्सल प्रभावित एवं जंगल से सटा इलाका होने के कारण सुरक्षा दृष्टिकोण से एसपी अनिश गुप्ता फोर्स के साथ लोंजो गांव से करीब एक घंटे पैदल चल करीब चार बजे घटना स्थल पर पहुंचे और जांच की। एसपी के साथ अभियान एसपी मनीष रमण, इंस्पेक्टर आनंद नेम्हस मिंज, एसआई एसएन लाल, आरके सिंह समेत काफी संख्या में जवान मौजूद थे।

आधुनिक हथियारों से लैस से वर्दीधारी नक्सली : सोमवार दोपहर करीब साढ़े बारह बजे वर्दीधारी नक्सलियों ने कुदाबुरु गांव के सेरेंगदा टोला पहुंच घटना को अंजाम दिया। नक्सली आधुनिक हथियारों से लैस थे। घटना को अंजाम देने के बाद नक्सली नारेबाजी करते हुए करीब एक घंटे तक जमे रहे।

पहले चाबी ली, फिर मोबाइल छीना : घटना को अंजाम देने पहुंचे नक्सलियों ने सबसे पहले निर्माण कार्य में लगे जेसीबी चालक से चाबी मांगी और अन्य सभी के मोबाइल को कब्जे में ले लिया। इसके बाद पास में रखे ड्रम से डीजल निकाल कर पांचों वाहनों को आग के हवाले कर दिया। यह नजारा देख चालक भाग खड़े हुए और इसकी सूचना अपने मालिकों को दी।

मुठभेड़ की आशंका से पुलिस फूंक फूंककर रख रही थी कदम : सोनुवा थाना क्षेत्र के लोंजो के कुदाबुरु गांव का सेरेंगदा टोला नक्सलियों का गढ़ माना जाता है। टोला से सटा एक पहाड़ है, जो नक्सलियों के लिए मददगार साबित होता है। घटना के बाद एसपी जवानों के साथ लोंजो गांव से ही पैदल पहाड़ियों के किनारे होते कुदाबुरु घटना स्थल पर पहुंचे। एसपी गुप्ता ने बताया कि पुलिस को नक्सलियों से मुठभेड़ की आशंका थी, जिस कारण पुलिस सर्च चलाकर आगे बढ़ रही थी।

नक्सलियों ने नहीं मांगी थी लेवी : इधर, घटना के संबंध में केडी कंस्ट्रक्शन चक्रधरपुर के मालिक कृष्णदेव साव ने फोन पर बताया कि कभी भी किसी भी नक्सली संगठन द्वारा उनसे लेवी नहीं मांगी गयी है। उन्होंने घटना पर आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि उनकी कंस्ट्रक्शन कंपनी बेहद नक्सली क्षेत्र गुदड़ी में भी काम कर चुकी है। लेकिन, कभी भी नक्सली संगठन द्वारा उनसे लेवी नहीं मांगी गयी।

घटना में नक्सली जीवन के दस्ते का हाथ होने की आशंका : एसपी अनिश गुप्ता ने बताया कि घटना को नक्सली संगठन भाकपा माओवादी जीवन कंडुलना के दस्ते द्वारा अंजाम देने की संभावना है। कहा, नक्सलियों के विरुद्ध अभियान चलाया जा रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Five vehicles of Naxalites to be blamed for Levi