ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंड चक्रधरपुरकेरा में स्वतंत्रता सेनानी उमापदो त्रिपाठी की प्रतिमा का डीआरएम ने किया अनावरण

केरा में स्वतंत्रता सेनानी उमापदो त्रिपाठी की प्रतिमा का डीआरएम ने किया अनावरण

आजादी की अमृत महोत्सव के अवसर पर चक्रधरपुर प्रखंड के केरा गांव में रविवार को स्वतंत्रता सेनानी उमापदो त्रिपाठी (नाटु बाबू) के सम्मान में प्रतिमा का...

केरा में स्वतंत्रता सेनानी उमापदो त्रिपाठी की प्रतिमा का डीआरएम ने किया अनावरण
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,चक्रधरपुरTue, 16 Aug 2022 04:31 PM
ऐप पर पढ़ें

चक्रधरपुर। आजादी का अमृत महोत्सव पर चक्रधरपुर प्रखंड के केरा गांव में रविवार को स्वतंत्रता सेनानी उमापदो त्रिपाठी (नाटु बाबू) के सम्मान में प्रतिमा का अनावरण मुख्य अतिथि डीआरएम विजय कुमार साहू ने किया। इससे पूर्व उन्होंने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन कर प्रतिमा का आनावरण किया। उनके साथ मुख्य रूप से पूर्व विधायक शशिभूषण सामड, भाजपा के वरिष्ठ नेता अशोक षाड़ंगी, मुखिया मीरा हांसदा, स्वंतत्रता सेनानी के पुत्र सत्यप्रिय त्रिपाठी, नाती मानवता त्रिपाठी, दीपक त्रिपाठी, तापस त्रिपाठी शामिल थे।

इस मौके पर डीआरएम ने कहा कि केरा गांव वीरों की माटी है। ऐसे वीरों में एक स्वतंत्रता सेनानी उमापदो त्रिपाठी थे। उन्हें सम्मान देना हमारा कर्तव्य है। विधायक शशिभूषण सामड ने कहा कि देश को आजादी दिलाने में स्वतंत्रता सेनानी उमापदो त्रिपाठी का अहम योगदान रहा है। उनके सम्मान में प्रतिमा स्थापित कर सबुज संघ सही मायने में उन्हें सम्मान दिया है। उनके परिवार को सरकारी लाभ मिले इसके लिए सरकार को पत्रचार किया जाएगा। मालूम रहे कि उमापदो त्रिपाठी के पिता वृंदावन त्रिपाठी आनंदपुर व केरा स्टेट के दीवान थे। उन्होंने देश को ब्रिटिश शासन के चंगुल से आजाद करने के लिए नेताजी सुभाष चंद्र बोस के संगठन से जुड़कर उनका कार्यकर्ता और मित्र बने थे। उनके पुत्र उमापदो त्रिपाठी आजाद हिंद फौज में जुड़ने के साथ ही संगठन का प्रचार व राशि जुटाने का काम करते थे। अंग्रेजों को देश से भगाने के लिए उन्होंने नेताजी के साथ मिलकर कोलकाता एयरपोर्ट को उड़ाने का षड़यंत्र रचा था जिसके लिए ब्रिटिश पुलिस ने गिरफ्तार कर सश्रम कारावास सेंट्रल जेल बहरमपुर ओड़िशा में डाल दिया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से आयोजन समिति के अध्यक्ष कार्तिक पंडा, सचिव कामाख्या प्रसाद साहू, कोषाध्यक्ष सत्यप्रकाश कर, अभिजीत भट्टाचार्य, राजीव कुमार सिंहदेव, प्रदीप सिंहदेव, जयकुमार सिंहदेव, सुरेश चंद्र साहू, दशरथ प्रधान, गोविंद मोहंती, श्रीवंत षाड़ंगी, गौरांग कर, अमित मिश्रा, सदानंद पति, किशोर ज्योतिषी, राजू साहू, दिनेश नंदा, सदानंद होता, दया पाणी समेत काफी संख्या में गांव के गणमान्य मौजूद थे।

epaper