DA Image
31 अक्तूबर, 2020|10:07|IST

अगली स्टोरी

जयंती पर याद किये गये बिनोद बिहारी महतो

default image

आदिवासी कुड़मी समाज जिला इकाई द्वारा झारखंड मुक्ति मोर्चा के संस्थापक बिनोद बिहारी महतो की 97वीं जयंती बुधवार को वन विश्रामागार में मनायी गई। इस दौरान उनकी तस्वीर पर उपस्थित लोगों ने माल्यार्पण कर श्रद्धा-सुमन अर्पित किया। जिला उपाध्यक्ष रत्नाकर महतो की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में जिला महासचिव संजीव महतो ने बिनोद बिहारी महतो की जीवनी पर प्रकाश डालते हुये कहा कि जीवन भर वे शोषित, पीड़ित, वंचितों के लिए काम करते रहें। उनका एकमात्र मूल सिद्धांत था लड़ना है तो पढ़ना सीखो। मौके पर समाजसेवी दुर्गा महतो ने कहा कि विनोद बिहारी झारखंड आंदोलन को तेज करने के लिए झारखंड मुक्ति मोर्चा पार्टी का गठन किया था और उसी के नेतृत्व में झारखंड अलग राज्य का लड़ाई लड़ा। इस मौके पर मुख्य रूप से चक्रधरपुर युवा नगर अध्यक्ष सुमित महतो आनंद महतो श्री चंद्र महतो सिकंदर महतो उपस्थित थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Binod Bihari Mahato remembered on Jayanti