ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंड चाईबासा मां लक्ष्मी का हुई पूजा-अर्चना

मां लक्ष्मी का हुई पूजा-अर्चना

चाईबासा में बुधवार को धन की देवी मां लक्ष्मी पूजा धूमधाम से की गई। विशेषकर बंगाली समुदाय के लोगों ने लक्खी पूजा...

 मां लक्ष्मी का हुई पूजा-अर्चना
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,चाईबासाThu, 21 Oct 2021 03:21 AM

चाईबासा / जगन्नाथपुर, संवाददाता

चाईबासा में बुधवार को धन की देवी मां लक्ष्मी पूजा धूमधाम से की गई। विशेषकर बंगाली समुदाय के लोगों ने लक्खी पूजा की । लक्ष्मी पूजा दुर्गा पूजा के कुछ दिन बाद ही पहली पूर्णिमा (शरद पूर्णिमा) को मनाई जाती है। मां लखखी के नाम से पुकारे जाने वाली धन की देवी आराधना करने के लिए लोगों ने सुबह से ही अपने घरों को साफ सफाई की , द्वार में कलश रखा, आम पता और रंगोली घरों को सजाया। कहीं-कहीं पर बिजली की सजावट भी की गई। बंगाली समुदाय के प्रत्येक घर में इस पूजा को किया गया। बंगाली समुदाय में आज के दिन ही कई घरों में गृह प्रवेश तथा नई दुकानों का भी शुभारंभ भी किया जाता है। कई दुर्गा पंडालों में भी महालक्ष्मी की पूजा अर्चना की गई।मंगलवार को पूर्णिमा होने के कारण कई लोगों ने मंगलवार को ही मां की पूजा- अर्चना की। ज्यादातर बंगाली परिवार के लोगों ने बड़े धूमधाम से बुधवार को पूजा की तथा अपने घर ,परिवार तथा समाज के लिए सुख ,शांति समृद्धि की कामना की। जगन्नाथपुर में मंगलवार की देर रात जगन्नाथपुर राम मंदिर परिसर मे मां लक्ष्मी का पूजा अर्चना किया गया। शरद पूर्णिमा के शुभ अवसर पर हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी जगन्नाथपुर लक्ष्मी पूजा कमेटी की ओर से मां लक्ष्मी का मूर्ति स्थापित कर अर्चना बड़े ही धूमधाम से किया गया। जहां पंडित केदारनाथ वैदिक मंत्रोचार के साथ मां लक्ष्मी का पूजा अर्चना करवाया। जिसमें जगन्नाथपुर तथा ग्रामीण क्षेत्रों के लोग पूजा अर्चना करने राम मंदिर पहुंचे। लक्ष्मी पूजा कमेटी की ओर से सरकार के द्वारा जारी दिशा निर्देश भली-भति पालन किया गया। वहीं बुधवार को लक्ष्मी पूजा कमेटी की ओर से पूजा करने आए सभी श्रद्धालुओं के बीच खिचड़ी का भोग वितरण किया गया। इसमें सभी ने भूख ग्रहण किया। इस अवसर पर लक्ष्मी पूजा कमेटी में अमित गुप्ता, अमृत गुप्ता, अमरनाथ गुप्ता, मोनू घटवारी, रवि निषाद, धीरज निषाद, दिलीप भगत, दिनेश गुप्ता, महादेव ठाकुर तथा जगन्नाथपुर ग्रामवासी एवं ग्रामीण क्षेत्र के लोगों ने भाग लिया।

epaper