DA Image
1 दिसंबर, 2020|7:59|IST

अगली स्टोरी

लोकसुनवाई के समर्थन में आये प्रभावित क्षेत्र के ग्रामीण

लोकसुनवाई के समर्थन में आये प्रभावित क्षेत्र के ग्रामीण

टाटा स्टील के नोवामुंडी आयरन ओर माइंस खनन विस्तारीकरण को लेकर प्रदूषण नियंत्रण पर्षद बोर्ड द्वारा छह नवंबर को नोवामुंडी में लोक सुनवाई निर्धारित की गई है। लोक सुनवाई तिथि निर्धारित होते ही नेता से लेकर आम पब्लिक नौकरी से लेकर विभिन्न समस्याओं की सूची तैयार कर टाटा स्टील महाप्रबंधक कार्यालय तक चक्कर लगा रहे हैं। इसी कड़ी में टाटा स्टील के आदर्श ग्राम के रूप में गोद लिए डुकासाई के ग्रामीण भी अपनी एकजुटता का परिचय देते हुए कंपनी की सहयोग के लिए आगे आ गए हैं। लोक सुनवाई की सहयोग के लिए रविवार को डुकासाई,पाचायसाई के गोप टोला और महुदी स्टेशन बस्ती में ग्रामीणों ने बैठक कर सहमति देने का निर्णय लिया गया।

डुकासाई गांव के गणेश लागुरी ने बताया कि टाटा स्टील की खनन क्षेत्र विस्तारीकरण होने से कंपनी में कार्यरत लगभग 13 सौ और कांट्रेक्टर लेबल पर कार्यरत 5000 मजदूरों के परिवारों का भविष्य जुड़ा है। यदि खनन विस्तारीकरण रुक जाता है तो इतने सारे कंपनी कर्मचारी व विभिन्न ठेका कंपनी के पास कार्यरत मजदूरों के समक्ष रोजी रोटी की समस्या आ जाएगी। बीरबल दास ने बताया कि राजनीतिक नेता को विरोध करना मजबूरी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Villagers of the affected area came in support of Loksunwai