DA Image
28 सितम्बर, 2020|9:42|IST

अगली स्टोरी

उच्च स्तरीय लाइब्रेरी स्थापित करना एक मिसाल : गीता श्रीउरांव

उच्च स्तरीय लाइब्रेरी स्थापित करना एक मिसाल : गीता श्रीउरांव

समाज के हर तबके को जीवन के सुखद पहलू का अनुभव करने का हक है। इसके लिए समाज के सक्षम व्यक्तियों का मार्गदर्शन आवश्यक है। उच्च स्तरीय लाइब्रेरी स्थापित करना एवं अध्ययन केंद्र सह हॉस्टल का निर्माण करना इंसानियत की अच्छी मिसाल है। उक्त बातें कोल्हान डिजिटल लाइब्रेरी संचालक समिति द्वारा पुलहातु में प्रस्तावित 30 बेड वाली नि:शुल्क हॉस्टल निर्माण के लिए आयोजित भूमिपूजन के अवसर पर झारखंड के पूर्व शिक्षा मंत्री गीताश्री उरांव ने बतौर मुख्य अतिथि कही। करीब दस लाख की अनुमानित लागत से बनने वाली हॉस्टल सह अध्ययन केंद्र के निर्माण के मौके पर विशिष्ट अतिथि चक्रधरपुर के पूर्व विधायक बहादुर उरांव ने पचास हजार रुपये का सहयोग राशि प्रदान करने का घोषणा किया। मौके पर कोल्हान डिजिटल लाइब्रेरी ग्रुप के संयोजक संजय कच्छप ने लाइब्रेरी निर्माण में सहयोग कर रहे समाज के लोगों के अलावे सभी शिक्षा प्रेमियों के प्रति आभार व्यक्त किया है। मौके पर उरांव सरना समिति के अध्यक्ष संचू तिर्की, सचिव अनिल लकड़ा, सलाहकार सहदेव किस्पोट्टा, नगर परिषद उपाध्यक्ष डोमा मिंज,वार्ड पार्षदगण मंगल खलखो, लक्ष्मी लकड़ा,निर्मला देवी, सेवानिवृत्त शिक्षक भगवान तिर्की, शिक्षक कृष्णा देवगम, पुलिस सार्जेंट मेजर रांधो देवगम, प्रोफेसर इंद्र पासवान, रूंगसाई, चक्रधरपुर के वार्ड सदस्य राजेश कच्छप, नाबार्ड के पदाधिकारी,कृषि बाजार समिति जमशेदपुर के पदाधिकारी श्री कालिंदी, पूर्व वार्ड पार्षद लालू कुजूर आदि उपस्थित थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Setting up a high-level library is an example Geeta Shriuraon