DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  चाईबासा  ›  अपहरण कर चार साल की बच्ची से किया दुष्कर्म, गला रेतकर हत्या

चाईबासाअपहरण कर चार साल की बच्ची से किया दुष्कर्म, गला रेतकर हत्या

हिन्दुस्तान टीम,चाईबासाPublished By: Newswrap
Thu, 27 Feb 2020 02:21 AM
अपहरण कर चार साल की बच्ची से किया दुष्कर्म, गला रेतकर हत्या

पश्चिमी सिंहभूम जिले के नक्सल प्रभावित जेटेया थाना क्षेत्र के बाबडि़या गांव से चार साल की बच्ची का अपहरण कर 25 वर्षीय युवक जंगल ले गया और दुष्कर्म के बाद गला रेतकर हत्या कर दी। बच्ची का अपहरण उसने 18 फरवरी को किया था। बुधवार को बच्ची का शव जंगल से चरवाहे की सूचना पर मिली।

इस मामले में 21 फरवरी को बच्ची के अपहरण की शिकायत जेटेया थाना में पिता ने दर्ज कराई थी, पर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। घटना के बाद से आरोपी फरार है। उसकी तलाश पुलिस कर रही है। पिता ने बताया कि उनकी बेटी अपनी बड़ी बहन के साथ 18 फरवरी को दिन के करीब तीन बजे घर से सौ मीटर की दूरी पर पेड़ के नीचे खेल रही थी। इस दौरान बाबडि़या का ही रावण लागुरी (25) आया और बच्ची को गोद में उठाकर जंगल की ओर ले भागा। उनलोगों काफी खोजबीन की, लेकिन वह नहीं मिली। इसके बाद जेटेया थाना में रावण लागुरी के खिलाफ अपहरण की नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई। बुधवार सुबह जब गांव के ही चरवाहा गाय चराने बाबडि़या जंगल की ओर गए तो बदबू आने लगी। एक चरवाहा ने देखा कि बच्ची का शव पड़ा है। इसके बाद इसकी सूचना पुलिस को दी गई।

जेटेया थाना प्रभारी वासुदेव टोप्पो जिला मुख्यालय से फोर्स आने के बाद शव को लाने वे घटनास्थल पर पहुंचे। शव को पोस्टमार्टम के लिए चाईबासा सदर अस्पताल भेजा गया। उन्होंने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। यह दुष्कर्म का भी मामला हो सकता है। वैसे पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

शव को फोरेंसिक जांच के लिए जमशेदपुर भेजा गया : शव सड़ जाने के कारण सदर अस्पताल चाईबासा से फोरेंसिक जांच के लिए जमशेदपुर भेजा गया। बताया जाता है कि रावण ने पहले भी दोनों बच्चियों का अपहरण किया था। पुलिस ने संदेह व्यक्त किया है कि बच्ची के साथ पहले दुष्कर्म किया गया होगा और साक्ष्य छुपाने की नीयत से उसकी हत्या कर शव को जंगल में फेंक दिया होगा। आरोपी की तलाश में पुलिस ने कई जगहों पर छापेमारी की, पर पता नहीं चल पाया है।

संबंधित खबरें