ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंड चाईबासा मांगे पूरी नहीं हुई तो बंद करा देंगे बोकारो स्टील प्लांट की चिमनी:-यूनियन

मांगे पूरी नहीं हुई तो बंद करा देंगे बोकारो स्टील प्लांट की चिमनी:-यूनियन

गुवा।सेल की किरीबुरु खदान में सक्रिय सभी मजदूर संगठनों के नेताओं ने संयुक्त मोर्चा के बैनर तले बोनस, एरियर एवं दासा की मांग को लेकर 27 सितंबर को...

मांगे पूरी नहीं हुई तो बंद करा देंगे बोकारो स्टील प्लांट की चिमनी:-यूनियन
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,चाईबासाTue, 27 Sep 2022 01:50 PM
ऐप पर पढ़ें

गुवा।सेल की किरीबुरु खदान में सक्रिय सभी मजदूर संगठनों के नेताओं ने संयुक्त मोर्चा के बैनर तले बोनस, एरियर एवं दासा की मांग को लेकर 27 सितंबर को जेनरल आफिस किरीबुरु में धरना-प्रदर्शन एवं नारेबाजी की। विभिन्न ट्रेड यूनियनों के मजदूर नेताओं व सेलकर्मियों ने बताया कि सेल प्रबंधन ने सम्मानजनक बोनस अब तक नहीं देकर हमारी खुशियों को छीनने का कार्य किया है। श्रमिक नेताओं का कहना है कि इन सारी मांगों को प्रबंधन पूरा करे, अन्यथा बडा़ आंदोलन होगा एवं बोकारो स्टील प्लांट की चिमनी से धुंआ निकलना बंद करा देंगे।कर्मियों का कहना है कि हम सभी सेल के श्रमिक सालों भर कड़ी मेहनत कर सेल को निरंतर लाभ पहुंचा रहे हैं।इस लाभ में सेलकर्मियों के परिवार के सदस्यों की भी अप्रत्यक्ष रूप में अहम भूमिका रहती है। वह सेलकर्मियों का सारा ख्याल रखते हुए तनाव दूर कर ड्यूटी भेजते हैं।तब तनावमुक्त होकर सेलकर्मियों कडी़ मेहनत कर सेल को निरंतर लाभ पहुंचा रहे हैं। दुर्गापूजा एक ऐसा पर्व है कि परिवार के सभी सदस्य एक साथ मिलकर खुशियां मनाते हैं। लेकिन सेल को हमारी खुशियों की कोई परवाह नहीं।सेलकर्मियों ने कहा कि 63 हजार बोनस की हमारी मांग थी, जो समझौता टेबल पर घटकर 45 हजार पहुंच गई है। इसे भी सेल देने से इन्कार कर रहा है।दूसरी मांग 1 जनवरी 2017 से लंबित 39 माह का एरियर का भुगतान करने का है। इसे भी सेल प्रबंधन नहीं दे रहा है।तीसरी मांग डिफकल्ट एरिया स्पेशल एलाउंस (दासा) से संबंधित है।सरकारी प्रावधान 10 फीसदी देने का है, लेकिन सेल प्रबंधन 8 फीसदी दे रहा है, लेकिन इसका एरियर नहीं दे रहा है।इस आंदोलन में मजदूर नेता राजेन्द्र सिंधिया, रमेश प्रधान, शहजादा अहमद, बदन गिरी, सुनील पासवान, अक्षय कुमार, पंकज महतो, जगमोहन सामद, दिलीप झा, रामा परीडा, युगल तांती सहित आदि दर्जनों शामिल हैं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
epaper