DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › चाईबासा › राज्य में अपराधी बेखौफ, डरा है आम इंसान : मरांडी
चाईबासा

राज्य में अपराधी बेखौफ, डरा है आम इंसान : मरांडी

हिन्दुस्तान टीम,चाईबासाPublished By: Newswrap
Wed, 01 Sep 2021 06:01 PM
राज्य में अपराधी बेखौफ, डरा है आम इंसान : मरांडी

चाईबासा, संवाददाता

पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा है कि प्रदेश में लूट मची हुई है। आयरन हो, पत्थर हो, कोयला हो या बालू सभी को पूरी तरह लूटा जा रहा है। ऐसे में इस सरकार से विकास की उम्मीद कैसे की जा सकती है। कानून व्यवस्था की स्थिति बहुत ही खराब है। मां-बहने सुरक्षित नहीं हैं। अपराधी बेखौफ है और आम इंसान डरा हुआ। वे मंगलवार को चाईबासा के पिल्लई होल में भारतीय जनता पार्टी अनूसूचित जनजाति मोर्चा के सम्मेलन को बतौर मुंख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

मरांडी ने कहा कि अव्यवस्थाओं के विरोध में आवाज उठाने पर जेल में डाल दिया जाता है, परेशान किया जाता है। कहने को तो आदिवासियों की सरकार है, लेकिल राज्य में महिलाओं के साथ जो दुष्कर्म की घटनाएं हुईं हैं, उनमें सबसे ज्यादा आदिवासी और दलित बच्चियां शिकार हुईं हैं। ये लोग आदिवासियों का मुखौटा पहन रखे हैं। उन्होंने कहा कि शिबू सोरेन जितना अलग राज्य के लिए लड़े उससे अधिक उनका परिवार ने वसूल कर लिया।

भाजपा के कारण झारखंड बना : पूर्व सीएम ने कहा कि झारखंड कभी इनके हाथों नहीं बनता। इस देश में 1998 में अब अटल बिहारी बाजपयी की सरकार बनी और सदन में बिल पेश किया जाता, लेकिन सरकार उस समय गिर गई थी। उसके बाद 1999 में भाजपा की सरकार बनी और 15 नवंबर 2000 का झारखंड अलग राज्य बना। इस समय शिबू सोरेन सासंद भी नहीं थे। उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं से कहा कि सीना तान कर कहें अलग राज्य बना है तो भाजपा ने बनाया है और भाजपा इसके विकास का भी काम कर रही है। इतिहास में पहली बार केंद्र में 8-8 आदिवासी मंत्री बनाया गया है। उन्होंने जेएमएम पर संविधान को नहीं मानने और जैसे चाहते हैं वैसा चलाने का आरोप लगाते हुए कहा कि टीएसी में संशोधन कर राज्यपाल के अधिकार को खत्म कर दिया। इससे पहले चाईबासा पहुंचने पर उनका कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया।

संबंधित खबरें