DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चाईबासा सदर थाना के इंस्पेक्टर घूस लेते गिरफ्तार

चाईबासा सदर थाना के इंस्पेक्टर घूस लेते गिरफ्तार

एंटी क्रप्शन ब्यूरो टीम ने शुक्रवार को 18 हजार रुपये घूस लेते सदर थाना के इंस्पेक्टर प्रेम मोहन प्रसाद मेहता को उनके कार्यालय से गिरफ्तार कर लिया। इंस्पेक्टर मेहता एक केस से नाम हटाने के एवज में रुपये ले रहे थे। एसीबी टीम उन्हें गिरफ्तार करने के बाद जमशेदपुर लेकर रवाना हो गई। केस से नाम हटाने के लिए ले रहे थे घूस : सूचना के अनुसार इंस्पेक्टर मेहता ने टुंगरी निवाशी शैलेश केशरी से एक दुर्घटना के केस से नाम हटाने के लिए 18 हजार रुपये की मांग की थी। शुक्रवार दोपहर साढ़े तीन बजे तय समय पर जैसे ही शैलेश केशरी ने रुपये दिये कि पहले सिविल ड्रेस में मौजूद एसीबी की टीम ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। मालिक कोई और केस किसी पर : शैलेश केशरी के अनुसार 30 अप्रैल को मंझारी थाना के भरभरिया में ट्रैक्टर दुर्घटना में एक व्यक्ति शंकर सोय की मौत हो गई थी। उस घटना में पुलिस ने उसे ट्रैक्टर मालिक बना दिया और उसके विरुद्ध मामला दर्ज कर दिया। लेकिन, गाड़ी के सरेंडर होने पर ट्रैक्टर का मालिक दूसरा निकला। केस से नाम हटाने के लिए ले रहे थे घूस : बकौल शैलेश, उस प्राथमिकी से नाम हटाने की बात की तो सदर इंस्पेक्टर ने 20 हजार रुपये मांगे। अंतत: 18 हजार रुपये पर बात बन गई। इसकी शिकायत उसने एंटी क्रप्शन ब्यूरो विभाग से की थी। जिसके बाद पुलिस ने शुक्रवार को घूस के पैसे लेते उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Chiebasa Sadar police inspector arrested for taking bribes