DA Image
29 सितम्बर, 2020|2:42|IST

अगली स्टोरी

सुदूर क्षेत्रों के मनरेगा श्रमिकों को होगा नकद भुगतान

default image

ग्रामीण विकास विभाग द्वारा सुदूर क्षेत्रों में रहने वाले मनरेगा श्रमिकों के मानदेय भुगतान नकद में किया जायेगा। यह सुविधा सिर्फ उन क्षेत्रों के लिये होगी जहां पर नेटवर्क की समस्या है। इस समस्या के कारण श्रमिकों का समय पर मानदेय भुगतान नहीं हो पाता था। ग्रामीण विकास विभाग द्वारा इस विषय पर लीड बैंक के साथ रणनीति तैयार की जा रही है। जानकारी के अनुसार श्रमिकों का भुगतान साप्ताहिक होगा तथा जिन श्रमिकों को नकद पैसा का भुगतान किया जायेगा उनकी सूची प्रखंड के विकास पदाधिकारी द्वारा बैंकों को दी जायेगी। उसी सूची के आधार पर मजदूरी का भुगतान किया जायेगा। नक्सल प्रभावित क्षेत्र रोआम तथा दीघा के मनरेगा श्रमिकों का मजदूरी भुगतान छोटानागरा स्थित सीआरपीएफ कैंप परिसर में किया जायेगा। यहां केनारा बैंक के द्वारा वितरण किया जायेगा। गुदड़ी व लौढ़ाई में बैंक ऑफ इंडिया द्वारा किया जायेगा। उप विकास आयुक्त संदीप बक्शी ने बताया कि इस तरह के प्रयोग पहली बार हो रहा है। इसका उद्देश्य सुदूर क्षेत्रों के मनरेगा श्रमिकों को समय पर मानदेय भुगतान करना है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Cash payment to MNREGA workers in remote areas