ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड बोकारोगोमिया के केरी में जंगली हाथियों ने मचाया उत्पात

गोमिया के केरी में जंगली हाथियों ने मचाया उत्पात

गोमिया प्रखंड के केरी के अदेलकोचा टोला में बुधवार की रात जंगली हाथियों के झुंड ने उत्पात मचाया। सरजू सोरेन (पिता फूलचंद मांझी) के घर के को ढह दिया...

गोमिया के केरी में जंगली हाथियों ने मचाया उत्पात
गोमिया के केरी में जंगली हाथियों ने मचाया उत्पात
हिन्दुस्तान टीम,बोकारोThu, 13 Jun 2024 04:15 PM
ऐप पर पढ़ें

गोमिया, प्रतिनिधि
गोमिया प्रखंड के केरी के अदेलकोचा टोला में बुधवार की रात जंगली हाथियों के झुंड ने उत्पात मचाया। सरजू सोरेन (पिता फूलचंद मांझी) के घर के को ढह दिया गया। साथ ही घर में रखा हुआ चावल, महुआ सहित खाने-पीने की अन्य सामग्रियों को खा-पीकर बर्बाद कर दिया। दुर्योगवश इस आदिवासी का घर हाथियों ने साल 2029 में भी गिराया था, जिसमें वन विभाग ने मात्र 5000 की सहायता राशि दी थी। गरीबी रेखा से नीचे रहने वाला यह परिवार मिट्टी का छोटा घर बनाकर रह रहा था इसे भी हाथियों ने गिरा दिया।

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के नेता सह झारखंड आंदोलनकारी इफ्तेखार महमूद ने बतलाया कि विगत दिनों डीएफओ बोकारो से मिलकर बात किया था और सलाह दिया था कि जंगली हाथी प्रभावित गांवों में ही नौजवानों का दस्ता बनाया जाय, क्योंकि वन विभाग का दस्ता जब गांव तक पहुंचता है उसके पहले ही हाथी अपना काम तमाम कर देते हैं। प्रस्ताव पर डीएफओ ने विचार करने की बात अवश्य किया किंतु कई माह बीत जाने के बाद भी वन विभाग संवेदनशील दिखलाई नहीं पड़ रहा है और हाथियों का कहर ग्रामीणों पर गिरता जा रहा है। वन विभाग के द्वारा सहायता पहुंचती है वह हुए नुकसान का आधा भी नहीं रहता है। फलस्वरूप जिनकी भी क्षति होती है वह आर्थिक रूप से और कमजोर हो जाते हैं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।