ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड बोकारोविस्थापित बहुल क्षेत्र में मतदाताओं ने जमकर किया मतदान

विस्थापित बहुल क्षेत्र में मतदाताओं ने जमकर किया मतदान

विस्थापित बहुल क्षेत्र में ग्रामीण मतदाताओं का मतदान को लेकर रूझान बढ़ाविस्थापित बहुल क्षेत्र में मतदाताओं ने जमकर किया मतदान विस्थापित बहुल क्षेत्र...

विस्थापित बहुल क्षेत्र में मतदाताओं ने जमकर किया मतदान
हिन्दुस्तान टीम,बोकारोSun, 26 May 2024 12:30 AM
ऐप पर पढ़ें

चास प्रतिनिधि। निगम क्षेत्र के 35 वार्ड में लगभग 130 मतदान केन्द्रों में मतदान हुआ। सुबह 6 बजे से ही लोग बूथों पर कतार में वोट डालने को लेकर वोटर लगे रहे। सात बजे सभी बूथों पर मतदान शुरु हुई। क्षेत्र के 368, 367, 368, 369, 370 व बुनियादी स्कूल, राम रुद्र हाई स्कूल, हनुमान मंदिर के समीप बूथ, प्राथमिक विद्यालय गुरुद्वारा के बूथों में दोपहर दो बजे तक वोटरों की भारी भीड़ रही। पुराना बाजार, स्वर्णकार मोहल्ला, रविन्द्र भवन के बूथों पर शाम 5 बजे तक वोटरों की भीड़ रही।
दोपहर बाद प्राथमिक विद्यालय गुरुद्वारा के बूथ पर संनाटा

निगम क्षेत्र के 476, 477 में 14 सौ के करीब वोटरों में 629 ने मताधिकार किया। सुबह-7 बजे से दोपहर डेढ़ बजे तक 530 लोगों ने मतदान किया। इसके बाद बूथ पर संनाटा छाया रहा। इस दौरान तीन घंटे में 45 के करीब लोगों ने मतदान किया। स्थानीय के माने तो दोनों बूथ में 30 प्रतिशत से अधिक वोटर क्षेत्र छोड़कर चले गए है। जबकि ऐसे वोटरों को चिन्हित करते हुए हटाए जाने पर काम होना था।

बुजुर्ग और दिव्यांग हुए परेशान

वार्ड-33, 34 और 35 के बुजुर्गों में अव्यवस्था को लेकर आक्रोश देखा गया। बूथ संख्या- 476 में पहुंचे 80 वर्षीय बुजुर्ग बीसी झा ने बताया कि बुजुर्गो को लेकर घर पर मतदान लेने को लेकर योजना होना चाहिए था। निगम क्षेत्र में करीब 30 प्रतिशत से अधिक बुजुर्ग है। बूथ तक पहुंचने को लेकर ऐसे लोगों को सहारा की जरुरत पड़ती है। केदारदास नगर के दिव्यांग प्रदीप कुमार ने बताया कि वोट डालना हमारा अधिकार है। भाई के सहारे बूथ पर वोट डालने पहुंच पाया हुं। उन्होंने कहा कि वोट डालकर खुशी का अनुभव कर रहा हुं।

राधा-कृष्ण मंदिर कमेटी ने की पेयजल व्यवस्था

बूथ में पहुंचे वोटरों के बीच पेयजल व्यवस्था को लेकर राधा-कृष्ण मंदिर के सदस्य सक्रिय रहे। बूथ से दूर मंदिर परिसर के समीप पेयजल की व्यवस्था किया गया। मंदिर कमेटी के अध्यक्ष असीत झा ने कहा कि बोतलबंद पानी सहित अन्य व्यवस्था लोगों को दिया गया। उन्होंने कमेटी के सभी सदस्यों के कार्यो की प्रशंसा किया। कहा कि लोकतंत्र के इस पर्व में सभी को हिस्सा लेने की जरुरत है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।