DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चोर गिरोह का संरक्षक है झरिया का विशाल झुनझुनवाला

धनबाद (झरिया) के केदारनाथ मन्ना लाल ज्वेलर्स के मालिक व्यवसायी विशाल झुनझुनवाला कोयलांचल के कुख्यात चोर गिरोह का संरक्षक है। वह अन्य स्वर्ण व्यवसायियों के साथ मिलकर बोकारो-धनबाद में चोरी की घटना को अंजाम देने के लिए एडवांस रुपए मुहैया कराता था। घटना के बाद चोरी के गहने गलाकर उसका स्वरूप बदल देता था।

एसआईटी के हाथों गिरफ्तार आफताब अंसारी और फियाज अंसारी के स्वीकारोक्ति बयान में यह चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। उक्त बातें एसपी कार्तिक एस ने शनिवार को पत्रकार सम्मेलन में धनबाद के गिरफ्तार स्वर्ण व्यवसायी विशाल झुनझुनवाला, गंगा प्रसाद और भगवान वर्मा की करतूतों की जानकारी देते हुए कहीं। तीनों स्वर्ण व्यवसायियों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

पुलिस अनुसंधान में यह बात सामने आयी है कि राजू मछली वाला (राजू अंसारी) नौ सदस्यीय पेशेवर कुख्यात चोर गिरोह का सरगना है। धनबाद के जोड़ापोखर के रहने वाले सरगना के इशारे पर कोयलांचल में रेकी कर घटना को अंजाम दिया जाता है। एसआईटी राजू मछली वाला की तलाश में लगी है, क्योंकि चोरी के गहने उसके पास भी हैं।

जब्त होगी जमीन, मोटरसाइकिल व कार

एसपी ने कहा कि चोरी के गहने बेचकर गिरोह के सदस्यों ने जमीन, कार और बाइक खरीदी है। एसआईटी उन्हें चिह्नित कर चुकी है। कानूनी प्रक्रिया पूरी कर उन्हें जब्त किया जाएगा। केदारनाथ मन्ना लाल ज्वेलर्स के सील जेवरात की जांच की जाएगी। इधर, चोर गिरोह के गिरफ्तार दो सदस्य और तीन स्वर्ण व्यवसायियों से पूछताछ के बाद छापेमारी कर 51 ग्राम सोने के गहने और 60 ग्राम चांदी के गहने बरामद किए गए हैं। पूछताछ में मिले सुराग के आधार पर बेरमो एसडीपीओ के नेतृत्व वाली एसआईटी चोरी गए दो करोड़ के गहने बरामद करने के लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Thieves are the guardian of the gang