DA Image
8 जुलाई, 2020|9:25|IST

अगली स्टोरी

कोल सेक्टर में हड़ताल ऐतिहासिक होगी : ददई

कोल सेक्टर में मजदूरों के हक व अधिकार के हनन को कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। कोयला उद्योग में कमर्शियल माइनिंग पूंजीपतियों के इशारों पर केंद्र सरकार देश के सभी कोयला मजदूरों के भविष्य को अंधकार में ले जा रही है। इसके विरोध में कोयला उद्योग में होने वाली तीन दिवसीय हड़ताल ऐतिहासिक होगी। उक्त बातें पूर्व सासंद व इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर दुबे उर्फ ददई दुबे ने मंगलवार को बोकारो में आयोजित सीसीएल रीजनल कमेटी की बैठक में कही। 

इंटक के पदाधिकारियों से ददई दुबे ने कहा कि यह हड़ताल कोयला उद्योग से जुड़े मजदूरों के अस्तित्व का सवाल है। मजदूरों के अस्तित्व को बचाने के लिए इंटक का एक-एक कार्यकर्ता अपनी चट्टानी एकता का परिचय देते हुए हड़ताल को सफल बनाकर एक बार फिर केंद्र सरकार की मजदूर विरोधी नीति का पुरजोर विरोध करे। बैठक के दौरान उपस्थित पदाधिकारियों की सर्वसम्मति से लाए गए प्रस्ताव के अनुसार मो. जॉनी को कथारा एरिया का अध्यक्ष व वरुण कुमार सिंह को कथारा एरिया सचिव बनाया गया। वरुण सिंह को बीएंडके, ढ़ोरी और कथारा तीनों एरिया का जोनल प्रभारी नियुक्त किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता रिजनल अध्यक्ष इसराफिल अंसारी ने की। बैठक में देवतानंद दुबे, उदय प्रताप सिंह, फारुख अंसारी, अनुराग सिंह, संतोष कुमार सिंह, ऋषिकेश मिश्रा, एआर साहेब, निशा भगत, अताउल्ला अंसारी, मिथिलेश दुबे मौजूद रहे। रमेश पाण्डेय सहित सभी एरिया के अध्यक्ष व सचिव शामिल रहे। 


   

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Strike in coal sector will be historic: Dadai