DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुशवाहा महासभा ने किया केंद्रीय मंत्री का पुतला दहन

सदन में चंद्रगुप्त मौर्य पर टिप्पणी के विरोध में झारखंड कुशवाहा महासभा, कुशवाहा समाज चास- बोकारो और कुशवाहा पंचायत परिषद बोकारो ने संयुक्त रूप से केंद्रीय मंत्री का पुतला दहन किया। बिरसा चौक नया मोड़ में नुक्कड़ सभा का आयोजन किया गया। सभा को संबोधित करते हुए झारखंड कुशवाहा महासभा के प्रदेश अध्यक्ष हाकिम प्रसाद महतो ने कहा कि मंत्री ने सदन में कहा कि चंद्रगुप्त मौर्य नीच जाति के थे। यह कहकर उन्होंने भारतीय संविधान की उपेक्षा की है। आज भारत की पहचान और सम्मान में मौर्य वंश का अद्वितीय योगदान है। इसकी झलक संविधान, तिरंगा, राजमुद्रा, राजमुहर से लेकर सारे प्रतीक चिह्नों में मिलता है। उनके वक्तव्य की हमारा समाज निंदा करता है, क्योंकि संवैधानिक पद पर बैठे व्यक्ति का ऐसा वक्तव्य उनकी मनुवादी मानसिकता को दर्शाता है। इसके लिए गृहमंत्री को सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए। उन्हें नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए। मौके पर सुनिल गांधी, सुनिल कुमार महतो, महामंत्री लालजी महतो, भीम महतो, झामुमो नेता राजेश महतो, जगत कुशवाहा, एपी वर्मा, रामावती अर्जक, रीता देवी, सुनिल मौर्या, कुशवाहा पंचायत परिषद के अध्यक्ष राम बल्लभ महतो महामंत्री अजय कुशवाहा, वंशी महतो, पतिलाल महतो, आर पी सिंहा, अरविंद मेहता, मनोज कुमार, अखंड भारत नवनिर्माण सेना आदि लोग उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kushwaha Mahasabha did the effigy of Union minister