DA Image
9 अगस्त, 2020|7:29|IST

अगली स्टोरी

वेस्ट बोकारो: तेज हवा और बारिश में ढह गया 50 फीट ऊंचा दुर्गा पूजा पंडाल

बोकारो: तेज हवा और बारिश में ढह गया 50 फीट ऊंचा दुर्गा पूजा पंडाल

शुक्रवार को अपराह्न एक बजे आई तेज हवा और बारिश ने जहां वेस्ट बोकारो के सेन्ट्रल साइट दुर्गा पूजा पंडाल को धराशायी कर दिया, वहीं इसके बाद भी इस घटना पर हजारों लोंगो की आस्था और टाटा स्टील प्रबंधन, सुरक्षा विभाग, पुलिस, प्रशासन, पूजा समिति और लोगों की सतर्कता भारी पड़ी। एक बजे अचानक तेज हवा चलने लगी, साथ ही बारिश भी होने लगी।


इस समय पंडाल के अंदर कुछ श्रद्धालु हवन विधि में शामिल थे और 50 से अधिक श्रद्धालु बाहर खड़ थे। इस दौरान अंदर से किसी ने सचिव उमेश केसरी को फोन किया कि जल्द एनाउंस करे कि जितने लोग बाहर खड़े हैं, जल्दी पूजा पंडाल के अंदर आ जाए, पंडाल गिर रहा है। कोई देरी न करते हुए तत्काल सूचना केन्द्र से घोषणा की गई और दर्जनों श्रद्धालु और दूकानदार पंडाल के अंदर आ गए। इसी दौरान देखते ही देखते काफी ऊंचा और भारी पंडाल नीचे गिरने लगा। इस बीच पंडाल के सामने बिजली के लोहे की ऊंचे खंभे पर आ टिका।

वहीं दूसरी ओर पंडाल के नीचे खड़ी पुलिस की बोलेरो में सवार चार जवान वाहन में फंस गए और चार मोटरसाइकिल पंडाल के नीचे दब गए। इस बीच एक श्रद्धालु संतोष कुमार सिंह ने बहादुरी का परिचय देते हुए बोलेरो में फंसे चारों जवानों को सुरक्षित बाहर निकाला। इस घटना में एक महिला श्रद्धालु भी घायल हुई, जिसे एंबुलेंस से टाटा स्टील मेन अस्पताल पहुंचाया गया।

घटना के 10 मिनट के अंदर टाटा स्टील वेस्ट बोकारो के महाप्रबंधक संजय कुमार सिंह अपने सभी चीफ और हेड अधिकारियों के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर राहत कार्य में मदद की। इस दौरान स्थानीय ओपी प्रभारी हवन विधि में शामिल थे। उन्होंने तत्काल सभी जवानों को सुरक्षा के मद्देनजर घटनास्थल में तैनात किया। इस मौके पर टाटा स्टील सुरक्षा विभाग, पूजा समिति के पदाधिकारी, स्थानीय लोंगो ने काफी तत्परता दिखाई। मौके पर पहुंचे डीएसपी किशोर कुमार रजक, इंस्पेक्टर सुरेश मिंज, मजिस्ट्रेट जय प्रकाश, ओपी प्रभारी राधेश्याम राम, एएसआई पूरन सिंह सहित सभी टाटा के वरीय अधिकारियों ने सुरक्षा कार्य में काफी सहयोग दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: Durga Puja Pandal 50 feet high in high wind and rain collapsed