DA Image
25 जनवरी, 2020|2:19|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश बचाने के लिए सीएए-एनआरसी जरूरी : राकेश

देश बचाने के लिए सीएए-एनआरसी जरूरी : राकेश

चास मारवाड़ी पंचायत भवन में पंडित दीनदयाल उपाध्याय सेवा संस्थान ने सीएए, एनआरसी व एनपीआर के समर्थन में विचार गोष्ठी की। अध्यक्षता मनोज कुमार उपाध्याय व संचालन कृष्णा राय ने किया।

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के झारखंड प्रांत सह कार्यवाह राकेश लाल ने कहा कि राष्ट्र की अखंडता बनाए रखने और दोबारा विभाजन से बचाने के लिए सीएए, एनआरसी, एनपीआर आवश्यक है। देश को दोबारा जेहादी शक्तियां अर्बन नक्सल के साथ मिलकर अशांत और भ्रमित करने में लगी हैं। इसस देश कमजोर हो रहा है। भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रवींद कुमार राय ने कहा कि सीएए और एनआरसी से देश के अंदर घुसपैठिया नहीं रह पाएंगे। भारत में कांग्रेस सरकार के षड्यंत के कारण देश के अंदर लाखों घुसपैठिए भारतीय संशाधनों पर कब्जा जमाए हैं। भारत के विभाजन के बाद पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में 30 प्रतिशत हिन्दू थे, जो वर्तमान में वहां एक प्रतिशत बच गए हैं। दूसरी तरफ भारत में दो प्रतिशत मुसलमान थे, जो अभी 22 प्रतिशत हो गए हैं। इस पर वामपंथी क्यों चुपी साधे हैं। बोकारो विधायक बिरंची नारायण ने कहा कि सीएए और एनआरसी से किसी भारतीय मुसलमान को खतरा नहीं है। इससे शरणार्थियों को नागरिकता देने का प्रावधान है, जो महात्मा गांधी का सपना था। गोष्ठी को कृष्णा राय, मनोज कुमार, जितेन्द्र तिवारी, कृष्णा केवट सहित अन्य ने सबोधित किया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:CAA-NRC needed to save the country Rakesh