DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बोकारो विधायक ने बीएसएल के एजीएम को पीटा

बोकारो विधायक ने बीएसएल के एजीएम को पीटा

बोकारो के सेक्टर 7 में तालाब के सौंदर्यीकरण के कार्य में एनओसी के विवाद ने मंगलवार को तूल पकड़ लिया। आरोप है कि भाजपा विधायक बिरंची नारायण ने मंगलवार दोपहर 12 बजे बीएसएल के सहायक महाप्रबंधक (एजीएम) अजीत कुमार को पीट दिया। जब बचाव में भागने की कोशिश की तो विधायक के साथ आए भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी उन्हें पीटा। अजीत कुमार को घायल अवस्था में बीजीएच में भर्ती कराया गया है। उनके सिर, चेहरा व पीठ पर चोट लगी है।

वहीं, विधायक बिरंची नारायण ने कहा कि सौंदर्यीकरण कार्य का एजीएम विरोध कर रहे थे। संवेदक और मजदूरों के साथ उनके सुरक्षाकर्मियों ने मारपीट की। वह बीच-बचाव कर रहे थे। देर शाम दोनों तरफ से केस दर्ज कराया गया है।

बीएसएल के नगर सेवा भवन में पदस्थापित एजीएम अजीत ने पुलिस को बताया कि सूर्य सरोवर में बीएसएल की बिना अनुमति सौंदर्यीकरण हो रहा था। इस बारे में बीएसएल प्रबंधन ने विभाग और संवेदक को सूचित किया था। चूंकि बीएसएल से उक्त कार्य में एनओसी नहीं लिया गया था, जिस कारण उक्त कार्य को रोकने गए थे। इसी क्रम में विधायक अपने समर्थकों के साथ बाइक से पहुंचे। कार्य रोकने के लिए कहा तो विधायक उलझ गए और पीटने लगे।

बोले विधायक

विधायक बिरंची नारायण ने कहा कि सरकार की ओर से कराए जा रहे कार्य का विरोध अपराध है। यदि बीएसएल को कार्य पर आपत्ति थी तो उपायुक्त या सरकार से बात करनी चाहिए थी। लेकिन, अधिकारी ने सुरक्षा गार्डों के साथ मजदूरों को भगाया और संवेदक से मारपीट की। जनप्रतिनिधि होने के नाते घटनास्थल पहुंचा। सरकारी आदेश अनुरूप यदि किसी पीएसयू की ओर से कार्य करने में एनओसी नहीं दिया जाता तो उसे 15 दिनों बाद स्वत: एनओसी का प्रावधान है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bokaro legislator beaten BSL s AGM