DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिव भक्तों के लिए आस्था का केंद्र है भूतनाथ मंदिर

धनबाद-बोकारो मुख्य पथ पर डूमरजोर के पास बाबा भूतनाथ का मंदिर भक्तों के लिए धार्मिक आस्था, भक्ति और श्रद्धा का केंद्र है। इस मार्ग से गुजरने वाला हर यात्री मंगलमय यात्रा के लिए मंदिर में माथा टेकने जरूर रुकता है। आसपास के गांवों में बाबा भूतनाथ की ख्याति और मानवसेवा के प्रति जो उनकी समर्पण की भावना थी, आज भी लोगों के दिल में है। बाबा भूतनाथ ने 70 वर्ष पूर्व डूमरजोर में बाबा मगनदास की समाधि पर मंदिर की स्थापना की, जिसमें स्थानीय लोगों ने भी मदद की। मंदिर की स्थापना के बाद बाबा यही के होकर रह गए। श्रद्धालुओं का आना-जाना लगा रहा। लोगों को कोई कष्ट होता, तो वह बाबा भूतनाथ की शरण में जाते। उन्हें कष्ट से मुक्ति मिल जाती।यह सिलसिला चलता रहा, जो आज भी जारी है। बाबा भूतनाथ भले नहीं है, लेकिन उनकी कृपा हमेशा लोगों पर बनी हुई है। आज भी सच्चे मन से मांगी हर मन्नत पूरी होती है। वैसे तो मंदिर में भक्तों के आने का सिलसिला सालोभर रहता है। बाबा भूतनाथ मंदिर में वैसे तो भक्तों की भीड़ हमेशा रहती है, लेकिन महाशिवरात्रि और सावन महीने में भक्तों का तांता लग जाता है। प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी भूतनाथ मंदिर में सावन महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। महोत्सव धूमधाम से मनाने की तैयारी चल रही है। मौके पर मंदिर की सजावट और अलौकिक शृंगार श्रद्धालुओं के लिए आकर्षण का केंद्र बन जाता है। मंदिर की स्थापना आज से 70 वर्ष पूर्व बाबा भूतनाथ ने की थी। बाबा भूतनाथ अघोरपंथी थे और राजस्थान के जयपुर जिला ग्राम हस्तेड़ा के निवासी थे। वे छोटे भाई, पत्नी, एक पुत्री छोड़ कर रांची से बोकारो चास आकर श्मशान में तपस्या करते थे और यहां अपना डेरा जमा लिया। चास से पांच किलोमीटर दूर डूमरजोर ग्राम वटवृक्ष के नीचे बाबा मगनदास जी तपस्या करते थे। बाद में उन्होंने वहां समाधि ले ली। बाबा भूतनाथ ने समाधि स्थल पर शिवलिंग स्थापित करने के लिए मंदिर का निर्माण किया। बाद में उनके अनुज महंत बाबा किशोरी दास , उनकी पत्नी मनभरी देवी और पुत्री गीता देवी राजस्थान से डूमरजोर पहुंचे एवं कार्यभार संभाला। मुख्य पुजारी शंभू प्रसाद उपाध्याय, किशन बटवाल, सुरेश, मुरारी बटवाल, बनवारी बटवाल, अनिल पांडेय, विश्वनाथ, शंकर, प्रकाश, गिरधारी, जितेन्द्र, जागीरा आदि सेवा में जुटे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bhuvanath temple is the center of faith for Shiva devotees