ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड बोकारोनिगम क्षेत्र के सभी तालाब होंगे अतिक्रमण मुक्त

निगम क्षेत्र के सभी तालाब होंगे अतिक्रमण मुक्त

निगम क्षेत्र के सभी तालाबें होंगे अतिक्रमण मुक्त, निगम प्रशासन ने शुरु की कवायद निगम क्षेत्र के सभी तालाब होगा अतिक्रमण मुक्त, निगम प्रशासन ने शुरू...

निगम क्षेत्र के सभी तालाब होंगे अतिक्रमण मुक्त
हिन्दुस्तान टीम,बोकारोWed, 15 May 2024 12:15 AM
ऐप पर पढ़ें

चास प्रतिनिधि। चास निगम क्षेत्र के सभी तालाबों को अतिक्रमण मुक्त करने को लेकर निगम प्रशासन की ओर से कवायद शुरु कर दिया गया है। जिसमें सोलागिडीह तालाब, भोलूरबांध, महतोबांध सहित अन्य 10 तालाब शामिल है। शिवपुरी कॉलोनी के महतोबांध की सर्वाधिक तालाब क्षेत्र की जमीन पर अतिक्रमण को लेकर निगम प्रशासन एक बार फिर से तालाब क्षेत्र की जमीन पर मापी करेगी। इसको लेकर कनीय, सहायक अभियंता सहित निगम अमीन से वास्तविक रिपोर्ट जमा करने को कहा गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार महतोबांध 8 एकड़ के जगह 4 एकड़ से भी कम पर सिमट गया है। हालांकि 23 लोगों को तालाब में अतिक्रमण को लेकर पूर्व सीओ राम नरेशा सोनी की ओर से नोटिस भी दिया गया था। इसके बाद पूर्व सीओ वंदना सेजवलकर के कार्यकाल में कार्रवाई करते हुए एक दो अवैध निर्माण तोड़ा गया था, लेकिन इसके बाद विगत तीन वर्ष से निगम क्षेत्र के तालाबों को अतिक्रमण मुक्त करने की अभियान बंद पड़ गई। इस बाबत नोडल पदाधिकारी अमन मल्लिक ने कहा कि इस ओर रिपोर्ट तैयार किया जा रहा है।

स्थानीय ने अतिक्रमणकारियों को बचाने का लगाया आरोप

निगम क्षेत्र के प्रमुख तालाबों को अतिक्रमण मुक्त करने को लेकर स्थानीय की ओर से लगातार आवाज उठाया जाता रहा है। मामले पर जनहित याचिका भी दायर किया गया। लेकिन इसके बाद भी अब तक निगम क्षेत्र के तालाब अतिक्रमणकारियों से मुक्त नहीं हो सका है। इसको लेकर स्थानीय में भारी आक्रोश है। तालाबों को बगैर अतिक्रमण मुक्त के निगम की सौंदर्यीकरण कार्य को लेकर भी स्थानीय ने सवाल उठाना शुरु कर दिया है। इस बाबत शिवपूरी कॉलोनी निवासी कौशल किशोर ने कहा कि तालाब को अतिक्रमणमुक्त करने के बाद सौंदर्यीकरण कार्य होना चाहिए था। लेकिन अंचल और निगम प्रशासन की ओर से अतिक्रमणकारियों को बचाने का प्रयास किया जाता रहा है। स्थानीय ने लोस चुनाव बाद आंदोलन तेज करते हुए अनशन पर बैठने की चेतावनी दिया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।