DA Image
27 नवंबर, 2020|8:34|IST

अगली स्टोरी

लॉकडाउन में टेंपो चालकों की रोजी-रोटी पर आफत

default image

आदित्यपुर नगर निगम क्षेत्र में रहनेवाले शिक्षित बेरोजगार टेंपो चालक सरकार से मदद की गुहार लगा रहे हैं। शुक्रवार को टेंपा चालक सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करते हुए एकत्र हुए और अपनी मांगों को लेकर सांकेतिक विरोध किया। टेंपो चालकों ने कहा कि इस क्षेत्र में करीब 61 टेंपो चालक रहते हैं, जिनके पास न तो राशन कार्ड है और न ही जनधन अकाउंट है। लॉकडाउन के एक माह तो किसी तरह से अपनी जमा पूंजी को खर्च कर पूरा कर लिये, लेकिन अब घर चलाना मुश्किल हो गया है। इन टेंपो चालकों को सरकारी मदद भी नहीं मिल पा रही है, जिसको आने वाले दिन कैसे बितायेंगे इसकी चिंता सता रही है। शिक्षित बेरोजगार टेंपो चालक संघ के सदस्यों ने मांग की है कि जिस प्रकार दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार ने टेंपो चालकों और मजदूरों को पांच हजार की आर्थिक मदद दी है, उसी प्रकार झारखंड सरकार भी मदद करे।

टेंपो चालकों ने मंत्री बन्ना गुप्ता से मदद की गुहार लगायी है। टेंपो चालकों में बायो, छोटू, शंकर, राहुल, शैलेश सिंह, दयानंद यादव, चंदेश्वर राम, धर्मवीर झा, संजय झा, ओमप्रकाश, विजय श्रीवास्तव, अमित झा, विश्वनाथ महतो समेत कई लोग उपस्थित थे।

ऑटो चालको के घर-घर पहुंचाया पुरेन्द्र : टेंपो चालको की समस्या सुन राजद नेता पुरेंद्र नारायण सिंह ने शुक्रवार शाम घर-घर जाकर 50 टेंपो चालकों को कच्चा खाद्दान्न उपलब्ध कराया। पुरेंद्र ने 5 किलो चावल, 2 किलो आटा, 3 किलो आलू 1 पैकेट नमक व साबुन उपलब्ध कराया। इस दौरान अधिवक्ता संजय कुमार, मनोज कुमार ठाकुर, मिथिलेश झा शामिल थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Tempo drivers suffer in lockdown