DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  आदित्यपुर  ›  एनडीआरएफ ने चार घंटे की मशक्कत के बाद खरकई नदी से निकाला छात्र शशांक का शव
आदित्यपुर

एनडीआरएफ ने चार घंटे की मशक्कत के बाद खरकई नदी से निकाला छात्र शशांक का शव

हिन्दुस्तान टीम,आदित्यपुरPublished By: Newswrap
Mon, 14 Jun 2021 10:30 PM
एनडीआरएफ ने चार घंटे की मशक्कत के बाद खरकई नदी से निकाला छात्र शशांक का शव

आदित्यपुर। संवाददाता

आरआईटी थाना क्षेत्र के राधा स्वामी खरकई नदी घाट पर स्नान के क्रम में नदी की धारा में बहे ट्रांसपोर्ट कॉलोनी के छात्र शशांक रंजन पांडेय का शव एनडीआरएफ टीम ने सोमवार को निकाल लिया। वह को-ऑपरेटिव कॉलेज से ग्रेजुएशन करते हुए सेना की बहाली के लिए तैयारी कर रहा था।

रविवार को शव नहीं मिलने के बाद सोमवार को एनडीआरएफ की आठ सदस्यीय टीम इंस्पेक्टर सुधीर कुमार के नेतृत्व में खरकई पहुंची, जहां स्थानीय गोताखोर की मदद से शव की तलाश शुरू की गयी। करीब चार घंटे की मशक्कत के बाद युवक का शव बरामद निकाल लिया गया।

शव निकलते ही दहाड़ मार रोने लगे परिजन : इधर, शव नदी से निकलते ही परिजनों का रो रोकर बुरा हाल हो गया। जिस स्थान पर युवक अंतिम बार देखा गया था, उससे सौ मीटर पर शव बरामद किया गया। गौरतलब है कि रविवार को ट्रांसपोर्ट कॉलोनी निवासी शशांक तीन युवकों के साथ खरकई नदी तट पहुंचा और स्नान करने की इच्छा जताते हुए नदी में उतर गया, जहां वह डूब गया।

सेना में जाने की तैयारी कर रहा था शशांक : बताया जाता है कि युवक सेना में जाने की तैयारी कर रहा था, जिसके लिए हर दिन दौड़ लगाता था। इसी क्रम में वह खरकई नदी तट दौड़ते हुए पहुंचा था। लेकिन, वहां पहुंचने पर स्नान के लिए नदी में उतर गया और हादसा हो गया। घटना के बाद मृतक के पिता अनिल पांडेय उनकी मां और अन्य परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है।

पार्वती घाट पर हुआ अंतिम संस्कार : रविवार से ही राजद नेता पुरेंद्र नारायण सिंह खरकई तट पर मौजूद होकर युवक की खोजबीन में शामिल रहे। वहीं, उन्होंने जिलाधिकारियों के सहयोग से सुबह एनडीआरएफ की टीम बुलवायी, जिसके बाद शव बरामद किया गया। मृतक का अंतिम संस्कार बिष्टूपुर पार्वती घाट पर किया गया।

संबंधित खबरें