Gamhariyas may get gift of Domuhani Bridge by 2020 - गम्हरियावासियों को 2020 तक मिल सकती है दोमुहानी पुल की सौगात DA Image
21 नबम्बर, 2019|1:12|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गम्हरियावासियों को 2020 तक मिल सकती है दोमुहानी पुल की सौगात

default image

गम्हरिया समेत करीब दो दर्जन गांवों के लिए खुशखबरी है। स्वर्णरेखा एवं खरकई नदी के संगम दोमुहानी घाट पर पुल निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो गयी है। खरकई नदी पर बननेवाले इस पुल से गम्हरिया क्षेत्र की तस्तीवर बदल जायेगी। यह क्षेत्र जमशेदपुर से सीधे जुड़ जायेगी। शिक्षा समेत अन्य क्षेत्रों में उत्तरोत्तर विकास होगा। अगर विभागीय स्तर से सबकुछ ठीक ठाक रहा तो वित्तीय वर्ष 2020 में गम्हरिया वासियों को इस नये पुल की सौगात मिल जायेगी।

आदित्यपुर नगर निगम के वार्ड-1 स्थित शहरबेड़ा शिव मंदिर के बगल में पुल का निर्माण होगा। सरायकेला-खरसावां जिला पथ निर्माण विभाग की ओर से 24 सितंबर को डीपीआर के लिए निकाले गये टेंडर की प्रक्रिया भी पूरी हो गयी है। उच्च स्तरीय पुल की अनुमानित लंबाई 160 मीटर रखी गयी है।

सरकार के निर्देश के आलोक में सॉइल टेस्टिंग का काम शनिवार से शुरू हो गया। खरकई नदी के जमशेदपुर छोर पर सॉइल टेस्टिंग के लिए मशीन लगायी गयी है। यह कार्य करीब एक सप्ताह तक चलेगा। सॉइल टेस्टिंग के बाद डीपीआर बनकर तैयार हो जायेगी। डिजाइनिंग एवं ड्राइंग के बाद प्रशासनिक स्वीकृति मिलते ही टेंडर के बाद निर्माण शुरू हो जायेगा।

नगर निगम के मेयर ने लिया जायजा

नगर निगम के मेयर विनोद श्रीवास्तव ने रविवार को ग्रामीणों के साथ पुल निर्माण स्थल का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि विगत 6 अक्तूबर, 2018 से पुल निर्माण की तकनीकी प्रक्रिया चल रही है, जो अब अंतिम चरण में है। इस क्षेत्र के लोगों को जल्द इसका लाभ मिल जायेगा। उन्होंने बताया कि उनके प्रयास से यह संभव हो पाया है। इस अवसर पर विहिप के प्रदेश धर्माचार्य भगवान सिंह, ब्रजेश पति तिवारी, परशुराम पंडित, देवनंदन सिंह, संतोष यादव, जय मंगल यादव, सुबोध यादव, वीर बहादुर, कृष्णा मंडल आदि उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Gamhariyas may get gift of Domuhani Bridge by 2020