DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › आदित्यपुर › छह साल बाद एसिया के अध्यक्ष पद के लिए 7 अगस्त को होगी वोटिंग
आदित्यपुर

छह साल बाद एसिया के अध्यक्ष पद के लिए 7 अगस्त को होगी वोटिंग

हिन्दुस्तान टीम,आदित्यपुरPublished By: Newswrap
Tue, 03 Aug 2021 09:41 PM
छह साल बाद एसिया के अध्यक्ष पद के लिए 7 अगस्त को होगी वोटिंग

आदित्यपुर। संवाददाता

आदित्यपुर स्मॉल इंडस्ट्रीज एसोसिएसन (एसिया) के सात अगस्त को होने वाले चुनाव के लिए मंगलवार को नामांकन पत्र वापस लेने समय सीमा समाप्त हो गयी। इसके साथ ही अब अध्यक्ष पद के लिए छह वर्षों के बाद वोटिंग होगी और वोटिंग से ही इस बार अध्यक्ष निर्वाचित होंगे। एसिया के करीब 6 सौ आजीवन सदस्य वोटर नये अध्यक्ष का चुनाव करेंगे।

वहीं मंगलवार को कार्यकारिणी सदस्य पद के लिए नामांकन करने वाले तीन सदस्यों ने अपना नाम वापस ले लिया। एसिया के चुनाव पदाधिकारी मुरलीधर केडिया तथा एसएन खंडेलवाल ने संयुक्त रूप से बताया कि समय सीमा खत्म होने से पूर्व मंगलवार को कार्यकारिणी सदस्य पद के लिए नामांकन पत्र करने वाले सुबोध कुमार सिंह, दीपक दोकानिया तथा पिंकेश महेश्वरी ने नामांकन वापस ले लिया।

इस प्रकार, अब महत्वपूर्ण अध्यक्ष पद को छोड़ शेष सभी पदों के लिए नामांकन करने वालों के निर्विरोध निर्वाचन का रास्ता साफ हो गया है। जबकि अध्यक्ष पद के लिए अब संतोष खेतान तथा राजीव रंजन मुन्ना के बीच सीधा मुकाबला होगा। गौरतलब है कि अब महासचिव के एक पद के विरुद्ध एकमात्र दशरथ उपाध्याय, कोषाध्यक्ष के एक पद के विरुद्ध एकमात्र रतन लाल अग्रवाल, ट्रस्टी के एक पद के विरुद्ध एकमात्र एसएन ठाकुर, उपाध्यक्ष के चार पद के विरुद्ध दीपक दोकानिया, सुधीर कुमार सिंह, संतोख सिंह व के मुरलीधरन, सचिव के चार पद के विरुद्ध मंदीप सिंह, अशोक कुमार गुप्ता, दिव्यांशु सिन्हा तथा तापस कुमार साहू उम्मीदवार बचे हैं।

वहीं, कार्यकारिणी के कुल 16 पदों के विरुद्ध भी अब कुल 16 सदस्यों का नामांकन पत्र ही बाकी रह गया है। कार्यकारिणी सदस्य पद हेतु नामांकन करने वालों में नमन अग्रवाल, राजेश कुमार अग्रवाल, सुनील सिंह, पवन कुमार अग्रवाल, विश्वनाथ हाजरा, आशीष अग्रवाल, रवि सरावगी, रमेश कुमार खंडेलवाल, देवाँग गाँधी, सत्यजीत साहू, प्रदीप कुमार जैन, हरजीत सिंह, मनोज कुमार हरनाथका, चतुर्भूज केडिया, स्वपन कुमार मजूमदार तथा युगल किशोर चिरानेवाल के नाम शामिल हैं।

इंदर अग्रवाल की होगी भूमिका महत्वपूर्ण

एसिया में छह वर्षों के बाद चुनाव की स्थिति बनी है। हालांकि, वर्तमान अध्यक्ष इंदर अग्रवाल पर निर्भर है कि वे किसके सपोर्ट में रहते हैं। कहीं न कहीं एसिया संगठन में वर्तमान अध्यक्ष सभी उद्यमी सदस्यों के बीच लोकप्रिय माने जाते हैं। यानी इंदर अग्रवाल का हाथ जिस उम्मीदवार के कंधे पर होगा, एसिया के अध्यक्ष की ताजपोशी उननके ही सिर पर होने की संभावना है। बहरहाल इंदर अग्रवाल ने दोनों उम्मीदवारों को अपना पिलर बताया है।

संबंधित खबरें