DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › आदित्यपुर › आदित्यपुर के व्यवसायी महेंद्र अग्रवाल का कर्मचारी संग अपहरण
आदित्यपुर

आदित्यपुर के व्यवसायी महेंद्र अग्रवाल का कर्मचारी संग अपहरण

हिन्दुस्तान टीम,आदित्यपुरPublished By: Newswrap
Wed, 01 Sep 2021 04:21 AM
आदित्यपुर के व्यवसायी महेंद्र अग्रवाल का कर्मचारी संग अपहरण

आदित्यपुर-गम्हरिया। संवाददाता

जिले के आदित्यपुर के व्यवसायी महेंद्र अग्रवाल का उनके कर्मचारी बागबेड़ा निवासी अश्विनी महतो के साथ अपहरण हो गया है। घटना के दिन दोनों मुड़िया स्थित मिल जाने के लिए घर से निकले थे।

इधर, घटना की सूचना मिलने के बाद आदित्यपुर पुलिस दोनों की बरामदगी के लिए अपहर्ताओं की सरगरमी से तलाश शुरू कर दी है।

27 अगस्त से दोनों हैं लापता : सूचना के अनुसार व्यवसायी महेंद्र अग्रवाल व उनका कर्मचारी 27 अगस्त से लापता हैं। पत्नी ने पहले गुमशुदगी का मामला आदित्यपुर थाना में दर्ज कराया था। लेकिन, जांच के बाद पुलिस के सामने अपहरण की बात सामने आयी।

सुबह में घर से निकले थे महेंद्र : व्यवसायी महेंद्र अग्रवाल की पत्नी सपना अग्रवाल ने बताया है कि 27 अगस्त की सुबह करीब नौ बजे महेंद्र घर से आटा चक्की मिल के लिए निकले थे। वह अपने एक कर्मचारी अश्विनी महतो के साथ बाइक पर निकले थे। लेकिन, 30 अगस्त तक घर नहीं लौटने पर पुलिस में मामला दर्ज कराया गया।

शेरे पंजाब दयाल रेसीडेंसी में है आवास : महेंद्र अग्रवाल का आवास शेरे पंजाब में है। वह शेरे पंजाब चौक पर स्थित दयाल सेंटर के सी-1 में रहते हैं, जबकि उनके साथ निकले कर्मचारी का आवास बागबेड़ा है।

30 अगस्त की रात एक बार हुई थी बात : पत्नी ने बताया कि 30 की रात करीब आठ बजे जब उनके मोबाइल पर बात करने की कोशिश की गयी तो उन्होंने दबी आवाज में बात की। इसके बाद दोबारा उनसे संपर्क करने पर मोबाइल स्विच ऑफ आने लगा। फिलहाल, आदित्यपुर पुलिस अपहरण का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

मोबाइल का अंतिम लोकेशन मिला मुड़िया : पारिवारिक सूत्रों के अनुसार 54 वर्षीय व्यवसायी महेंद्र कर्ज में डूबे हैं। उनके पुत्र की मौत तीन माह पूर्व हो चुकी है। उनके मोबाइल का अंतिम लोकेशन सरायकेला थाना के मुड़िया क्षेत्र बताया गया। हालांकि, पुलिस ने लोकेशन की पुष्टि नहीं की है।

कई लोगों से ले रखा था उधार : पुलिस के अनुसार महेंद्र अग्रवाल ने कई लोगों से लाखों रुपये का उधार ले रखा था, जिसे अब तक चुकाया नहीं है। लगातार तगादा आने के कारण काफी परेशान थे। वहीं, तीन माह पूर्व उनके इकलौते पुत्र की भी मौत बीमारी की वजह से हो चुकी है।

संबंधित खबरें