अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पटमदा-बोड़ाम में मनरेगा कर्मचारियों ने दिया धरना

पटमदा-बोड़ाम में मनरेगा कर्मचारियों ने दिया धरना

झारखंड राज्य मनरेगा कर्मचारी संघ के बैनर तले मंगलवार को बोड़ाम में जिलाध्यक्ष सहदेव महतो के नेतृत्व में रोजगार सेवकों ने कलमबंद हड़ताल की घोषणा करते हुए धरना दिया। इस दौरान महतो ने कहा कि सरकार की उत्पीड़न नीति, न्यूनतम मजदूरी से भी कम मानदेय देने, सामान्य कारणों से बिना स्पष्टीकरण मांगे चयनमुक्त किए जाने एवं बात-बात पर चयनमुक्त की धमकी का संघ द्वारा घोर निंदा की जाती है। उन्होंने सरकार से मांग किया कि मनरेगा कर्मियों की सेवा को स्थायी किया जाय, सर्वोच्च न्यायालय का आदेशानुसार 10 वर्ष कार्य पूरा कर चुके कर्मचारियों को स्थायी किया जाय तथा संविदा पर नई नियुक्ति पर रोक लगाते हुए समान काम के बदले समान वेतन दी जाए। पटमदा प्रखंड परिसर में वासुदेव महतो, विमल पातर, विकास महतो, रमेश टुडू व गंगाराम महतो समेत दर्जनों कर्मचारी मौजूद थे। दोनों प्रखंडों में मुखिया संघ के अध्यक्षों ने समर्थन देते हुए सरकार से कर्मचारियों की मांगों को जायज बताया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 48 5000 patamada-bodaam mein manarega karmachaariyon ne diya dharana Manaragha employees give dacoity in Patdama-Bodam