फोटो गैलरी

Hindi News जम्मू और कश्मीरकश्मीर में जब्त हो गई भाजपा के पूर्व मंत्री की जमीन, सील कर दिया गया नर्सिंग कॉलेज

कश्मीर में जब्त हो गई भाजपा के पूर्व मंत्री की जमीन, सील कर दिया गया नर्सिंग कॉलेज

जम्मू-कश्मीर में भाजपा के मंत्री रह चुके बाली भगत की जमीन को राजस्व विभाग ने सीज कर दिया। उन्हें पहले भी जमीन खाली करने का नोटिस दिया जा चुका था।

कश्मीर में जब्त हो गई भाजपा के पूर्व मंत्री की जमीन, सील कर दिया गया नर्सिंग कॉलेज
Ankit Ojhaएजेंसियां,श्रीनगरFri, 19 Jan 2024 09:23 PM
ऐप पर पढ़ें

जम्मू-कश्मीर में मंत्री रहे भाजपा नेता बाली भगत और उनके भाइयों की लगभग 44 हजार हेक्टेयर जमीन सरकार ने जब्त कर ली है। राजस्व विभाग ने कई बार इस जमीन को खाली करने का नोटिस दिया था। इसके बाद विभाग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए किश्तवाड़ स्थित जमीन को सील कर दिया। इस जमीन पर एक तीन मंजिला इमारत, एक नर्सिंग कॉलेज भी था जिसे सील कर दिया गया है। 

क्यों की गई कार्रवाई
इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक अधिकारियों का कहना है कि जम्मू-कश्मीर स्टेट लैंड ऐक्ट जिसे रोशनी ऐक्ट के रूप में भी जाना जाता है, के तहत यह भूखंड बाली भगत और उनके भाइयों के नाम ट्रांसफर किया गया था। साल 2001 में यह कानून फारूक अब्दुल्ला की सरकार ले कर आई थी।  इसके तहत अगर किसी ने सरकारी जमीन पर कब्जा कर लखा है तो वह सरकार द्वारा निर्धारित की गई कीमत अदा करके इसे खरीद सकता था। इससे प्राप्त रकम को हाइडल पावर प्रोजेक्ट में इस्तेमाल किया जाना था। 

साल 2014 में कैग ने इस कानून में कई खामियां बताईं और कहा कि इससे सरकार को 25 हजार करोड़ का घाटा हुआ है। जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट ने 2020 में इस ऐक्ट पर रोक ला दी। इसके बाद जितने भी आवंटन इस कानून के तहत किए गए थे उन्हें भी रद्द कर दिया। 15 जनवरी को बली भगत और उनके भाइयों के नाम दर्ज जमीन को खाली करने का नोटिस जारी किया गया था। यह जमीन बली भगत के अलावा दलीप कुमा, यशवंत सिंह, सुरजीत कुमार, अनूप कुमार, योग राज के नाम से दर्ज थी। 

बाली  भगत ने कहा कि यह जमीन पिछले 60-70 साल से उनके परिवार की है। उन्हें नहीं पता कि आखिर राजस्व विभा ने उसे रोशनी ऐक्ट के तहत कब उनको आवंटित कर दी। उनका कहना है कि उनकी मां ने इसे माता मछैल एजुकेशन ट्रस्ट को दान में दी थी। यहां ट्रस्ट द्वारा एक मेडिकल इंस्टिट्यूट चलाया जा रहा है। बता दें पिछले साल से जम्मू-कश्मीर सरकार ने इस तरह की लगभग 15 लाख कनाल भूमि को खाली करवाया है। 


 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें