Saturday, January 29, 2022
हमें फॉलो करें :

गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ जम्मू और कश्मीरराहुल गांधी के वैष्णो माता मंदिर में दर्शन के बाद भाजपा के युवा कार्यकर्ताओं ने रास्ते पर गंगाजल छिड़का

राहुल गांधी के वैष्णो माता मंदिर में दर्शन के बाद भाजपा के युवा कार्यकर्ताओं ने रास्ते पर गंगाजल छिड़का

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीNishant Nandan
Thu, 16 Sep 2021 10:59 PM
राहुल गांधी के वैष्णो माता मंदिर में दर्शन के बाद भाजपा के युवा कार्यकर्ताओं ने रास्ते पर गंगाजल छिड़का

इस खबर को सुनें

हाल ही में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी वैष्णो माता मंदिर में दर्शन के लिए जम्मू कश्मीर गए थे। राहुल गांधी द्वारा माता का दर्शन किये जाने के बाद अब भाजपा कार्यकर्ताओं ने यात्रा के रास्ते पर गंगाजल छिड़का है। जम्मू और कश्मीर भारतीय जनता पार्टी के युवा मोर्चा के सदस्यों ने यात्रा ट्रैक पर गंगाजल छिड़का है। रास्ते के शुद्धिकरण की इस प्रक्रिया का नेतृत्व जम्मू और कश्मीर बीजेपी युवा मोर्चा के अध्यक्ष अरूण जामवाल ने किया। बीजेवाईएम कार्यकर्ताओं का आरोप है कि राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओें ने पवित्र श्राइन की पवित्रता को नष्ट कर दिया है। 

उनका कहना है कि राहुल गांधी और पार्टी के कार्यकर्ता वैष्णो देवी यात्रा के दौरान अपने साथ कांग्रेस पार्टी का झंडा लेकर आए थे और उन्होंने यात्रा के दौरान राजनीतिक नारे भी लगाए। उनका कहना है कि यात्रा ट्रैक पर गंगाजल छिड़क कर उन्होंने इस ट्रैक को फिर से पवित्र किया है। 'India Today' से बातचीत के दौरान अरूण देव जामवाल ने कहा कि राहुल गांधी और उनके समर्थक पवित्र माता वैष्णो देवी का आदर-सम्मान नहीं करते हैं। उन्होंने कहा, 'कटरा में राहुल गांधी की यात्रा धार्मिक यात्रा नहीं थी। यह किसी राजनीतिक रोडशो की तरह था। कांग्रेस के झंडे लगाए गए थे और कार्यकर्ता राजनीतिक नारे लगा रहे थे। 

अब कांग्रेस पार्टी की तरफ से बीजेपी यूथ विंग की इन बातों को लेकर प्रतिक्रिया भी आई है। कांग्रेस नेता रमन भल्ला ने कहा कि बीजेपी नेता अपना दिमागी संतुलन खो बैठे हैं। राहुल गांधी एक श्रद्धालु के तौर पर माता वैष्णो देवी के मंदिर में गए थे। लेकिन बीजेपी इसपर भी राजनीति कर रही है। यह बहुत शर्मनाक बात है। इससे अच्छा होता है कि बीजेपी पवित्र गंगाजल पठानकोट एयरबेस पर छिड़कती जहां मोदी सरकार ने आईएसआईए के अधिकारियों को आतंकी हमले की जांच के लिए बुलाया था। यात्रा ट्रैक पर कई गांव वाले मौजूद थे और उन्होंने राहुल गांधी का स्वागत किया और नारे लगाए। इसमें कुछ गलत नहीं है। 

बता दें कि 9 सितंबर को राहुल गांधी माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए पहुंचे थे। उन्होंने 13 किलोमीटर की लंबी यात्रा पैदल तय की थी।  राहुल गांधी ने मंदिर के प्रमुख पुजारी और आरती करने वाले पुजारी से भी मुलाकात की थी। इस यात्रा के दौरान वहां कई अन्य कांग्रेसी नेता भी मौजूद थे।

epaper

संबंधित खबरें