DA Image
हिंदी न्यूज़ › जम्मू और कश्मीर › बीजेपी जश्न मना रही है और कश्मीर शोक में है, आर्टिकल 370 हटने की बरसी पर बोलीं महबूबा मुफ्ती
जम्मू और कश्मीर

बीजेपी जश्न मना रही है और कश्मीर शोक में है, आर्टिकल 370 हटने की बरसी पर बोलीं महबूबा मुफ्ती

एएनआई,श्रीनगरPublished By: Shankar Pandit
Thu, 05 Aug 2021 01:55 PM
mehbooba mufti
1 / 2mehbooba mufti
A day after Jammu and Kashmir violence PDP Chief Mehbooba Mufti asked the Centre to start a dialogue with Pakistan
2 / 2A day after Jammu and Kashmir violence PDP Chief Mehbooba Mufti asked the Centre to start a dialogue with Pakistan

आज जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 के हटाए जाने की दूसरी बरसी है। इस मौके पर जम्मू और कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी की मुखिया महबूबा मुफ्ती ने भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोला और कहा कि बीजेपी जश्न मना रही है जबकि कश्मीर शोक में है। बता दें कि केंद्र की मोदी रकार ने पांच अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म कर दिया था और पूर्ववर्ती राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया।

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के लिए आज शोक का दिन है। बीजेपी सरकार ने 2019 में उत्पीड़न और बर्बरता शुरू की। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि बीजेपी जश्न मना रही है जबकि कश्मीर शोक मना रहा है। हम इसका विरोध करेंगे। हम सरकार को बाहरी आयामों को संबोधित करने के लिए पाकिस्तान से बात करने के लिए मजबूर करेंगे।

इससे पहले पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया और कहा, 'कोई शब्द या तस्वीरें दो साल पहले इस काले दिन पर जम्मू कश्मीर की पीड़ा, उत्पीड़न और उथल पुथल को दर्शाने के लिए पर्याप्त नहीं है। जब निरंकुश उत्पीड़न किया जाता है और घोर अन्याय किया जाता है तो वजूद बनाए रखने के लिए विरोध करने के अलावा कोई विकल्प नहीं होता।'

गौरतलब है कि केंद्र ने पांच अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 खत्म किया गया था और इसका विशेष दर्जा भी खत्म कर दिया और पूर्ववर्ती राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख। मुफ्ती और उनकी पीडीपी दो साल पहले केंद्र के कदम का विरोध करने में काफी मुखर रही है। इतना ही नहीं, काफी दिनों तक महबूबा मुफ्ती को नजरबंद किया गया था। 

संबंधित खबरें