फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News जम्मू और कश्मीरजलकर खाक हुआ कश्मीर का 109 साल पुराना मंदिर, 'जय-जय शिव शंकर' की यहीं हुई थी शूटिंग

जलकर खाक हुआ कश्मीर का 109 साल पुराना मंदिर, 'जय-जय शिव शंकर' की यहीं हुई थी शूटिंग

Gulmarg Shiv Mandir: आग की लपटों को बुझाने के लिए आसपास के अग्निशमन केंद्रों से कई दमकल गाड़ियों को मौके पर भेजा गया। अधिकारियों ने बताया कि आग लगने के कारण का पता लगाया जा रहा है।

जलकर खाक हुआ कश्मीर का 109 साल पुराना मंदिर, 'जय-जय शिव शंकर' की यहीं हुई थी शूटिंग
Himanshu Jhaलाइव हिन्दुस्तान,श्रीनगर।Thu, 06 Jun 2024 08:56 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले के गुलमर्ग में बुधवार को आग लगने के कारण एक शिव मंदिर जलकर खाक हो गया। 20वीं सदी के इस प्रसिद्ध मंदिर का घाटी के इतिहास के साथ-साथ बॉलीवुड से भी गहरा संबंध रहा है। अग्निशमन और आपातकालीन सेवा के अधिकारियों ने कहा कि आग सुबह करीब 3.50 बजे लगी, जिससे मंदिर को व्यापक नुकसान हुआ।

आग की लपटों को बुझाने के लिए आसपास के अग्निशमन केंद्रों से कई दमकल गाड़ियों को मौके पर भेजा गया। अधिकारियों ने बताया कि आग लगने के कारण का पता लगाया जा रहा है।

एक पहाड़ी के ऊपर स्थित रानी मंदिर या मोहिनेश्वर शिवालय, 1974 में फिल्माई गई फिल्म “आप की कसम” के मैटिनी स्टार राजेश खन्ना और मुमताज अभिनीत बॉलीवुड हिट नंबर “जय जय शिव शंकर” के लिए भी प्रसिद्ध है। महारानी मंदिर का निर्माण 1915 में महाराजा हरि सिंह की पत्नी मोहिनी बाई सिसौदिया ने करवाया था।

गुलमर्ग में प्राचीन शिव मंदिर, जिसे आमतौर पर महारानी मंदिर के नाम से जाना जाता है, में लगी विनाशकारी आग के बारे में सुनकर, पूर्व एमएलसी और जम्मू-कश्मीर धर्मार्थ ट्रस्ट के ट्रस्टी विक्रमादित्य सिंह तुरंत श्रीनगर के लिए रवाना हुए और स्थिति का जायजा लेने के लिए सीधे गुलमर्ग पहुंचे। आग की घटना ने दुखद रूप से ऐतिहासिक संरचना को राख में बदल दिया है।

विक्रमादित्य सिंह की दादी, गुजरात के धर्मकोट राज्य की दिवंगत राजकुमारी द्वारा 1915 में निर्मित यह मंदिर, जम्मू और कश्मीर के शाही परिवार के लिए गहरा भावनात्मक महत्व रखता है।

Advertisement