DA Image
हिंदी न्यूज़ › विदेश › 600 दिन में कोई विदेश दौरा नहीं, सिर्फ फोन पर बातचीत; चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की तबीयत इतनी बिगड़ी!
विदेश

600 दिन में कोई विदेश दौरा नहीं, सिर्फ फोन पर बातचीत; चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की तबीयत इतनी बिगड़ी!

हिन्दुस्तान ब्यूरो,नई दिल्लीPublished By: Priyanka
Mon, 20 Sep 2021 05:45 AM
600 दिन में कोई विदेश दौरा नहीं, सिर्फ फोन पर बातचीत; चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की तबीयत इतनी बिगड़ी!

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की सेहत को लेकर अफवाहों का बाजार गर्म है। मीडिया रिपोर्ट में लगाई जा रहीं तरह-तरह की अटकलों में उनका स्वास्थ्य खराब होने का दावा किया गया है। विदेशी दौरों के प्रति जिनपिंग की उदासीनता से भी इन अटकलों को बल मिल रहा है। कयास लगाए जा रहे हैं कि वह बैठकों में प्रत्यक्ष शामिल होने या आमने-सामने की मुलाकात करने की स्थिति में संभवत: नहीं हैं। राष्ट्रपति का स्वास्थ्य खराब होने के समर्थन में जो तर्क दिए गए हैं वे ये हैं-

1- 600 दिन में कोई विदेशी दौरा नहीं
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक चीनी राष्ट्रपति ने पिछले 600 दिनों से एक बार भी विदेशों का दौरा नहीं किया है। वह इससे पहले 18 जनवरी, 2020 को म्यांमार के दौरे पर गए थे। इसके बाद से वह देश से बाहर नहीं गए।

2- व्यक्तिगत मुलाकात बंद
रिपोर्ट के अनुसार हालिया परिदृश्य यहीं संकेत देते हैं कि शी जिनपिंग किसी विदेशी नेता से व्यक्तिगत रूप से नहीं मिल रहे हैं। ऐसा कोई विदेशी नेता दौरा नहीं कर रहा जिसका चीनी राष्ट्रपति से मिलने का कार्यक्रम हो। यदि कोई विदेश मंत्री दौरा करता भी है, तो वह बीजिंग के अलावा दूसरे शहरों में पहुंचता है। इससे शी जिनपिंग का उनसे मिलना जरूरी नहीं रह जाता।

3- टेलीफोन वार्ता पर जोर 
स्वास्थ्य कारणों से जिनपिंग अब अधिक से अधिक वार्ता टेलीफोन पर कर रहे हैं। उक्त अवधि में उन्होंने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल और फ्रांसीसी राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों समेत करीब 60 राष्ट्राध्यक्षों से टेलीफोन पर वार्ता की।

4- बैठकों में वर्चुअल भागीदारी
चालू साल में राष्ट्रपति ने दर्जनों अंतरराष्ट्रीय बैठकों में भाग लिया, लेकिन सब में वर्चुअल माध्यम से उपस्थिति दर्ज कराई। ब्रिक्स की 9 सितंबर, 2021 को आयोजित बैठक में भी उन्होंने व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होने की जगह वर्चुअल माध्यम से भाग लिया। इसके अलावा अक्तूबर, 2021 में रोम में होने वाले जी-20 सम्मेलन में भी जिनपिंग की व्यक्तिगत उपस्थिति की पुष्टि नहीं की गई है।

5- बैठकें अकारण स्थगित
रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि राष्ट्रपति जिनपिंग चीन में अमेरिकी विदेश मंत्री, सिंगापुर के प्रधानमंत्री, डेनिश प्रधानमंत्री के साथ बैठकों को बिना कोई कारण बताए स्थगित कर चुके हैं।

6- पैर लड़खड़ाने के संकेत
मीडिया रिपोर्ट में मार्च 2019 में जिनपिंग के इटली, मोनाको और फ्रांस दौरे का जिक्र क्रिया गया है। इसमें कहा गया है कि इस दौरे में गार्ड ऑफ ऑनर के तहत निरीक्षण के दौरान चीनी राष्ट्रपति लड़खड़ाते नजर आए। वह फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों के साथ वार्ता के दौरान बैठते समय कुर्सी के हत्थे का सहारा लेते दिखे।

7- भाषण के समय बार-बार खांसी
शेनझेन विशेष इकोनॉमिक जोन की स्थापना की 40वीं वर्षगांठ पर जिनपिंग तय समय से बहुत देर बाद भाषण देने मंच पर पहुंचे। मंच पर एक घंटे के भाषण के दौरान वह काफी धीरे-धीरे बोले। इस दौरान उन्हें बार-बार खांसते और पानी पीते हुए देखा गया।

 

संबंधित खबरें