ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशचीन में राष्ट्रपति चुनाव से पहले जिनपिंग के खिलाफ शुरू हुआ अभियान, आगे क्या?

चीन में राष्ट्रपति चुनाव से पहले जिनपिंग के खिलाफ शुरू हुआ अभियान, आगे क्या?

चीन में राष्ट्रपति चुनाव होने को हैं और मौजूदा राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने ऐसे संकेत दिए हैं कि वह लगातार तीसरी बार राष्ट्रपति बनना चाहते हैं। इस बीच जिनपिंग ने आलोचकों ने उनका विरोध शुरू कर दिया है।

चीन में राष्ट्रपति चुनाव से पहले जिनपिंग के खिलाफ शुरू हुआ अभियान, आगे क्या?
Aditya Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 23 Jun 2022 06:39 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

चीन में राष्ट्रपति चुनाव होने को हैं और मौजूदा राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने ऐसे संकेत दिए हैं कि वह लगातार तीसरी बार राष्ट्रपति बनना चाहते हैं। इस बीच चीन में जिनपिंग ने आलोचकों ने उनका विरोध करना शुरू कर दिया है।

एएनआई की रिपोर्ट बताती है कि लोगों ने कहा है कि जिनपिंग ने चीन को पीछे धकेल दिया है। कोरोना वायरस महामारी को गलत तरीके से रोकथाम करके चीन की अपूरणीय क्षति की है। लोगों ने कहा है कि जिनपिंग ने शंघाई जैसे शहरों को अपनी मर्जी से बंदकर इकॉनमी को नष्ट कर दिया है।

चीनी की एक बड़ी आबादी शी जिनपिंग से नाराज?

एएनआई की एक रिपोर्ट बताती है चीनी की एक बड़ी आबादी शी जिनपिंग से नाराज है और लोग परिवर्तन चाहते हैं। अभियान चला रहे लोगों ने एक कैंपेन की शुरुआत की है। इसके तहत मानवता के खिलाफ जिनपिंग के अपराधों के बारे में वीडियो बनाकर साझा करने की अपील की गई है। चीन में रह रहे लोगों से ऐसा करते हुए सावधानी बरतने की सलाह दी गई है।

ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ने की अपील

चीनी लोगों से अपील की गई है कि वह अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को मौजूदा स्थिति में बारे में बताए औए जिनपिंग को सत्ता से हटाएं। इसके साथ ही कानून और सैन्य कर्मियों के सहयोगी न बनने की अपील की गई है। इस अभियान में ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ने की अपील की गई है।

शी जिनपिंग पर उठ रहे सवाल

अभियान चला रहे लोगों ने नागरिकों से भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग के सबूत जमा करने की अपील की है। यह अभियान ऐसे वक्त में शुरू हुआ है जब चीन में शी जिनपिंग की पकड़ कमजोर हुई है और कोरोना वायरस, इकॉनमी और निवेश को लेकर शी जिनपिंग पर सवाल उठ रहे हैं।

epaper