ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेश VIDEO: जी20 में क्यों भड़के शी जिनपिंग? चीनी राष्ट्रपति ने किसको दे डाली अंजाम भुगतने की चेतावनी

VIDEO: जी20 में क्यों भड़के शी जिनपिंग? चीनी राष्ट्रपति ने किसको दे डाली अंजाम भुगतने की चेतावनी

बाली में जी-20 समिट के दौरान एक हैरान करने वाला नजारा देखने को मिला। एक वीडियो सामने आया है, जिसमें चीन के राष्ट्रपति शी-जिनपिंग भड़कते नजर आ रहे हैं। उनके सामने खड़े हैं कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो।

 VIDEO: जी20 में क्यों भड़के शी जिनपिंग? चीनी राष्ट्रपति ने किसको दे डाली अंजाम भुगतने की चेतावनी
Deepakअनिरुद्ध धर, हिंदुस्तान टाइम्स,नई दिल्लीWed, 16 Nov 2022 10:53 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

बाली में जी-20 समिट के दौरान एक हैरान करने वाला नजारा देखने को मिला। एक वीडियो सामने आया है, जिसमें चीन के राष्ट्रपति शी-जिनपिंग भड़कते नजर आ रहे हैं। उनके सामने खड़े हैं कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो। इस दौरान वह जी-20 समिट से इतर की गई बातचीत को मीडिया में लीक करने के लिए ट्रूडो पर नाराज हो रहे हैं। गौरतलब है कि मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है जी-20 सम्मेलन से इतर जब ट्रूडो की जिनपिंग से मुलाकात हुई तो उन्होंने घरेलू मामलों में बीजिंग के दखल पर चिंता जताई थी। बताया गया है कि बुधवार को जिनपिंग ट्रुडो से इसी बात को लेकर नाराजगी जता रहे थे।

इस बात पर नाराजगी
ग्लोब एंड मेल ने इस बारे में रिपोर्ट प्रकाशित की गई है। इसमें कहा गया है कि जिनपिंग ने कहा कि ट्रुडो की ऑफिस ने दोनों की बातचीत की डिटेल प्रकाशित कर दी। वह कहते हैं कि जो भी हमारे बीच बात हुई वह न्यूजपेपर्स में लीक हो गई। यह ठीक नहीं है। वह आगे कहते हैं जिस तरह से बातचीत हुई, यह ठीक नहीं है। जिनपिंग ने इस दौरान कहा कि अगर आप सिंसियर हैं तो हमारे बीच सम्मानजनक ढंग से बात करनी चाहिए। अन्यथा यह कहना मुश्किल होगा कि इसका अंजाम क्या हो सकता है। इस दौरान जस्टिन ट्रुडो खड़े होकर उन्हें सुनते रहे और ट्रांसलेशन का इंतजार करते रहे।

वीडियो किया है पोस्ट
सीटीवी नेशनल न्यूज की पत्रकार एनी बर्जेरॉन-ओलिवर ने एक वीडियो पोस्ट किया है। इस वीडियो में ट्रुडो और जिनपिंग बातचीत के बाद हाथ मिलाते दिखाई दे रहे हैं। इससे पहले मंगलवार को तीन साल के दरम्यान ट्रूडो और जिनपिंग की पहली मुलाकात हुई। कनाडा सरकार के सूत्रों के मुताबिक इस दौरान पीएम ट्रूडो ने चीन द्वारा देश के आंतरिक मामलों में दी जा रही दखलअंदाजी पर चिंता जताई है। गौरतलब है कि 7 नवंबर को एक मीडिया रिपोर्ट आई थी जिसमें चीन द्वारा 2019 के कनाडा चुनाव में दखलअंदाजी की बात कही गई थी। इसके अलावा कनाडा के सबसे बड़े विद्युत उत्पादन कंपनी का एक कर्मचारी सोमवार को गिरफ्तार किया गया था। इस कर्मचारी के ऊपर आरोप है कि वह चीन के लिए ट्रेड सीक्रेट्स चोरी कर रहा था।