ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशयूक्रेन को ₹4000 दान करने पर महिला गिरफ्तार, बेड़ियों में लाई गई कोर्ट; रूस में चलेगा देशद्रोह का केस

यूक्रेन को ₹4000 दान करने पर महिला गिरफ्तार, बेड़ियों में लाई गई कोर्ट; रूस में चलेगा देशद्रोह का केस

महिला पर आरोप है कि उसने 4000 रुपए दान देकर यूक्रेनी सेना की मदद की है और रूस को धोखा दिया है। महिला जेल में है और उस पर केस चल रहा है। उसे आंखों पर पट्टी और बेड़ियां बांधकर अदालत लाया गया।

यूक्रेन को ₹4000 दान करने पर महिला गिरफ्तार, बेड़ियों में लाई गई कोर्ट; रूस में चलेगा देशद्रोह का केस
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,मॉस्कोWed, 21 Feb 2024 03:26 PM
ऐप पर पढ़ें

रूस में लंबे वक्त से रह रही एक अमेरिकी डांसर को पुलिस ने देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। महिला पर यूक्रेनी संगठन को 51 डॉलर (करीब 4 हजार रुपए) का दान करने का आरोप है। यह संस्था यू्क्रेन में लोगों की मदद के लिए चंदा इकट्ठा करती है। महिला पर आरोप है कि उसने दान देकर यूक्रेनी सेना की मदद की है और रूस को धोखा दिया है। महिला जेल में है और उस पर केस चल रहा है। रूस में देशद्रोह पर सख्त सजा के प्रावधान है। उसे आंखों पर पट्टी और बेड़ियां बांधकर अदालत लाया गया।

बिजनेस इनसाइडर की रिपोर्ट के मुताबिक, 33 वर्षीय बैलेरीना केन्सिया कारेलिना को देशद्रोह के आरोप में रूस में गिरफ्तार किया गया है। मॉस्को के अधिकारियों का दावा है कि उसने यूक्रेनी संगठन रज़ोम के माध्यम से यूक्रेनी सेना को मदद करने के लिए $51 का दान दिया। इससे कथित तौर पर उस देश की सेना को लाभ हुआ। कैरेलिना आंखों पर पट्टी बांधकर और बेड़ियां बांधकर अदालत में पेश हुईं।

रूस की संघीय सुरक्षा सेवा (एफएसबी) ने दावा किया, “फरवरी 2022 से, वह यूक्रेनी संगठनों में से एक के हितों में सक्रिय रूप से धन एकत्र कर रही है, जिसका उपयोग बाद में यूक्रेन के सशस्त्र बलों के लिए चिकित्सा वस्तुएं, उपकरण, हथियार और गोला-बारूद खरीदने के लिए किया गया था।” मॉस्को टाइम्स के अनुसार, एजेंसी ने कहा, "इसके अलावा, आरोपी महिला ने अमेरिका में रहते हुए कीव शासन के समर्थन में सार्वजनिक कार्यों में भी बार-बार भाग लिया।"

लॉस एंजिल्स के बेवर्ली हिल्स में एक स्पा का प्रबंधन करने वाली कारेलिना को कथित तौर पर 27 जनवरी को रूसी शहर येकातेरिनबर्ग में गिरफ्तार किया गया था। स्थानीय पुलिस ने महिला पर सार्वजनिक तौर पर गाली-गलौज करने का भी आरोप लगाया है। अदालत को पुलिस अधिकारियों ने बताया कि कारेलिना उनके साथ असभ्य भाषा का प्रयोग कर रही थीं। 29 जनवरी को महिला को सड़क पर गुंडागर्दी का दोषी पाया गया और 14 दिन की जेल की सजा मिली। 

कारेलिना की पूर्व सास, एलोनोरा स्रेब्रोस्की ने एनवाई पोस्ट को बताया, “हम सभी सदमे में हैं। वह बहुत अच्छी महिला है। वह कभी भी किसी का कुछ भी बुरा नहीं करेगी। वह कभी भी कोई आपराधिक काम नहीं कर सकती। उसकी मां और पिताजी का हाल ही में तलाक हो गया था और वह परिवार को देखना चाहती थी।”

कारेलिना पर कथित तौर पर अमेरिकी बैंक खाते से रज़ोम में $51.80 ट्रांसफर करने के लिए राजद्रोह के आरोप का सामना करना पड़ रहा है। अपनी वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार, संगठन अपने मिशन को "सुरक्षित, समृद्ध और लोकतांत्रिक यूक्रेन की स्थापना में योगदान" बताता है।

गौरतलब है कि रूस में राजद्रोह के आरोपों के गंभीर परिणाम होते हैं, जिसमें लंबे समय तक जेल की सजा या मौत के भी प्रावधान हैं। 2023 से अब तक कुल 63 लोगों को देशद्रोह के आरोप में मुकदमे का सामना करना पड़ा है और उनमें से 37 को दोषी पाया गया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें