ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशचीन ने पाकिस्तान को बताया जिगरी दोस्त, शरीफ से कहा- पड़ोसियों के साथ कूटनीतिक संबंधों में हमेशा देंगे प्राथमिकता

चीन ने पाकिस्तान को बताया जिगरी दोस्त, शरीफ से कहा- पड़ोसियों के साथ कूटनीतिक संबंधों में हमेशा देंगे प्राथमिकता

चीनी राजनयिक के साथ शाहबाज की मुलाकात के संबंध में चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजिआन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, 'हम प्रधानमंत्री शाहबाज की सकारात्मक प्रतिक्रिया का सम्मान करते हैं।

चीन ने पाकिस्तान को बताया जिगरी दोस्त, शरीफ से कहा- पड़ोसियों के साथ कूटनीतिक संबंधों में हमेशा देंगे प्राथमिकता
Ashutosh Rayएजेंसी,बीजिंगThu, 14 Apr 2022 09:34 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

चीन ने गुरुवार को पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ से कहा कि पड़ोसियों के साथ अपने कूटनीतिक संबंधों में वह अपने परम मित्र (पाकिस्तान) को हमेशा प्राथमिकता देता है। इसके साथ ही चीन ने 60 अरब डॉलर की लागत वाली सीपीईसी परियोजना को बढ़ावा देने की अपनी प्रतिबद्धता भी दोहराई। आधिकारिक मीडिया में आई खबरों के अनुसार, शाहबाज मंगलवार को अपने कार्यालय में चीनी दूतावास प्रभारी पांग चुनसु से मिले। 

इस दौरान शरीफ ने कहा कि उनकी सरकार चीन के साथ संबंधों को बेहतर बनाने का बहुत महत्व देती है और वह कृषि, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, शिक्षा और गरीबी उन्मूलन के क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग को और बढ़ाने की इच्छुक है। शाहबाज ने कहा कि उनकी सरकार चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (CPEC) के निर्माण को पूरे लगन से आगे बढ़ाएगी और दोनों देशों को लाभ पहुंचाने के लिए तेज गति से इसका विकास करेगी।

चीनी राजनयिक के साथ शाहबाज की मुलाकात के संबंध में चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजिआन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, 'हम प्रधानमंत्री शाहबाज की सकारात्मक प्रतिक्रिया का सम्मान करते हैं।' उन्होंने कहा, 'चीन और पाकिस्तान महत्वपूर्ण रणनीतिक साझेदार और परम मित्र हैं। पड़ोसियों के साथ कूटनीति के मामले में हम पाकिस्तान को हमेशा प्राथमिकता देंगे और बेहतरी के उसके प्रयासों का समर्थन करेंगे।'

प्रवक्ता ने कहा, 'हम पाकिस्तानी प्रशासन के साथ काम करना जारी रखेंगे और विभिन्न स्तरों पर करीबी संपर्क में बने रहेंगे, द्विपक्षीय संबंधों में नये आयाम जोड़ेंगे और सीपीईसी का निर्माण करेंगे।'

epaper