DA Image
1 अप्रैल, 2020|7:34|IST

अगली स्टोरी

फ्रांस में शरण मांग सकते हैं विकीलीक्स के फाउंडर जूलियन असांजे

wikileaks founder julian assange   reuters

ब्रिटेन की जेल में बंद विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे फ्रांस में शरण मांग सकते हैं। उनके वकील एरिक डुपॉन्ड-मोरेट्टी ने शुक्रवार (21 फरवरी) को यह जानकारी दी। असांजे का संयुक्त राज्य अमेरिका में 18 राज्यों में जासूसी और कंप्यूटर हैकिंग के लिए मामले में प्रत्यर्पण होना है।

मोरेट्टी ने यूरोप-1 रेडियो को बताया कि असांजे की कानूनी टीम फ्रांस में शरण पाने के लिए फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के संपर्क में है। असांजे ने भी कहा है कि उनके सबसे छोटे बच्चे की मां भी फ्रेंच हैं।

वकीलों ने कहा कि शरण के लिए अनुरोध एक सामान्य मांग नहीं है, क्योंकि असांजे अभी फ्रांस की धरती पर नहीं हैं। मोरेट्टी ने कहा कि फ्रांसीसी शरण अनुरोध मानवीय और स्वास्थ्य आधार पर किया जाएगा।

इसमें तर्क दिया जाएगा कि असांजे मनोवैज्ञानिक अत्याचार के शिकार हो रहे हैं। वकील ने बताया कि संविधान का अनुच्छेद-53 भी फ्रांस को एक ऐसे व्यक्ति को शरण देने की अनुमति देता है, जिसे उसकी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के कारणों पर खतरा हो रहा है।

गौरतलब है कि 48 वर्षीय असांजे ने पिछले साल अप्रैल में जेल में लाए जाने से पहले इक्वाडोर के लंदन दूतावास में सात साल बिताए थे। अगर वह दोषी ठहराए जाते हैं तो वह दशकों तक सलाखों के पीछे रह सकते हैं। हालांकि, 2015 में तत्कालीन फ्रांसीसी सरकार असांजे की शरण देने की मांग ठुकरा चुकी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:WikiLeaks Founder Julian Assange Likely To Seek Asylum in France