ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशक्या है पुतिन की सरमट मिसाइल जो रूस के 'दुश्मनों को सोचने पर कर देगी मजबूर'?

क्या है पुतिन की सरमट मिसाइल जो रूस के 'दुश्मनों को सोचने पर कर देगी मजबूर'?

यूक्रेन पर परमाणु हमलों की आशंकाओं के बीच रूस ने यह परीक्षण किया है। रूस ने अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण करके अपने दूर के दुश्‍मनों को कड़ा संदेश देने के लिए किया है।

क्या है पुतिन की सरमट मिसाइल जो रूस के 'दुश्मनों को सोचने पर कर देगी मजबूर'?
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तानThu, 21 Apr 2022 06:24 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

रूस और यूक्रेन में चल रहे युद्ध के बीच, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बुधवार को कहा कि रूस ने सरमट अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है, जो दुनिया की सबसे शक्तिशाली मिसाइल है जिसके बारे में माना जाता है कि यह किसी भी मिसाइल डिफेंस को भेदने में सक्षम है।

इस मिसाइल को बोलचाल की भाषा में शैतान के नाम से जाना जाता है। सरमट अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण रूस की रक्षा के लिए एक बड़ी और महत्वपूर्ण घटना है। राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बताया कि यूक्रेन से तनाव के बीच रूसी सेना ने सरमट इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक परमाणु मिसाइल का सफल परीक्षण किया है। उन्होंने कहा कि यह क्रेमलिन के दुश्मनों को दो बार सोचने के लिए मजबूर करेगा।

यूक्रेन पर परमाणु हमलों की आशंकाओं के बीच रूस ने यह परीक्षण किया है। रूस ने अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण करके अपने दूर के दुश्‍मनों को कड़ा संदेश देने के लिए किया है। वहीं, अमेरिका ने रूसी आईसीएम टेस्‍ट को रूटीन बताते हुए कहा है कि यह खतरा नहीं है।

सरमट इंटरकांटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल के बारे में सब कुछ

1. सरमत अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल को उत्तरी आर्कान्जेस्क क्षेत्र में मॉस्को से लगभग 800 किमी उत्तर में प्लासेत्स्क कोस्मोड्रोम से दागा गया था। 

2. पहले परीक्षण प्रक्षेपण में, मिसाइल ने रूस के सुदूर पूर्व में लगभग 6,000 किमी (3,700 मील) दूर कामचटका प्रायद्वीप में लक्ष्य को निशाना बनाया।

3. ऐसा माना जाता है कि मिसाइल का वजन 200 टन से अधिक है और यह 10 से अधिक वारहेड को ले जाने में सक्षम है।

4. रूसी मीडिया के अनुसार, सरमट एक तीन चरणों वाली, लिक्विड-ईंधन वाली मिसाइल है जिसकी मारक क्षमता 18,000 किमी है और प्रक्षेपण वजन 208.1 मीट्रिक टन है। यह मिसाइल 35.3 मीटर लंबी और 3 मीटर व्यास की है।

5. ऐसा माना जाता है कि 10 बड़े वारहेड के अलावा, यह 16 छोटे वारहेड को ले जा सकती है, जो वारहेड और काउंटरमेशर्स या हाइपरसोनिक बूस्ट-ग्लाइड वाहनों का संयोजन है।

6. मिसाइल वर्षों से तैयार की जा रही थी।

7. पेंटागन ने कहा कि परीक्षण नियमित है और अमेरिका और उसके सहयोगियों के लिए खतरा नहीं है। पेंटागन ने कहा कि सरमट के परीक्षण शुरू होने से पहले मॉस्को ने अमेरिका को ठीक से सूचित किया था। अमेरिका ने रूस के साथ बढ़ते तनाव से बचने के लिए 2 मार्च को Minuteman III ICBM का अपना परीक्षण स्थगित कर दिया।

8. एक बार परीक्षण पूरा हो जाने के बाद, रूस के परमाणु बल "इस साल की शरद ऋतु में" नई मिसाइल की डिलीवरी लेना शुरू कर देंगे, रिपोर्ट में कहा गया है।

epaper