ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशरूसी राष्ट्रपति के पोस्टर, गगनचुंबी इमारतें, पुतिन के दौरे में दिखीं उत्तर कोरिया की सड़कें; VIDEO

रूसी राष्ट्रपति के पोस्टर, गगनचुंबी इमारतें, पुतिन के दौरे में दिखीं उत्तर कोरिया की सड़कें; VIDEO

पुतिन 24 साल बाद उत्तरी कोरिया की धरती पहुंचे। तानाशाह किम जोंग उन ने उनके स्वागत के लिए सड़कों पर पुतिन की पोस्टर लगाए। काफिला जहां से गुजरा, वहां गगनचुंबी इमारतें दिखीं। वीडियो में देखें

रूसी राष्ट्रपति के पोस्टर, गगनचुंबी इमारतें, पुतिन के दौरे में दिखीं उत्तर कोरिया की सड़कें; VIDEO
kim jong un and putin
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,प्योंगयांगWed, 19 Jun 2024 02:53 PM
ऐप पर पढ़ें

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन 24 साल बाद उत्तरी कोरिया की धरती पर हैं। इससे पहले वो साल 2000 में तानाशाह के देश पहुंचे थे, तब उनकी मेजबानी किम जोंग उन के पिता ने की थी। इस बार भी पुतिन के भव्य स्वागत में कोई कसर नहीं छोड़ी गई। किम जोंग उन खुद एयरपोर्ट पर पुतिन को रिसीव करने पहुंचे। तानाशाह ने पुतिन के स्वागत में रेड कार्पेट बिछाया और गले लगकर अभिवादन किया। यही नहीं किम पुतिन को कार तक छोड़ने भी आए और उनकी रवानगी के बाद ही वहां से निकले। पुतिन के भव्य स्वागत का अंदाजा इसी बात से लगा लीजिए कि रूसी राष्ट्रपति के पोस्टर उत्तरी कोरिया की सड़कों पर दिखाई दिए। गगनचुंबी इमारतों से होकर पुतिन का काफिला निकला और उत्तरी कोरिया की सड़कों का नजारा दुनिया ने पहली बार देखा। 

व्लादिमीर पुतिन औऱ तानाशाह किम जोंग उन की दोस्ती की झलक दुनिया ने पिछले साल सितंबर में भी देखी थी, तब उत्तरी कोरिया के तानाशाह किम हरे रंग की ट्रेन पर सवार होकर हजारों किलोमीटर का सफर तय करके रूस पहुंचे थे। किम अर्से बाद विदेशी धरती पर पहुंचे थे। अब तक के कार्यकाल में किम सिर्फ पांच बार विदेशी धरती का दौरा कर चुके हैं। उससे पहले साल 2018 में किम ने चीन का दौरा किया था।

उत्तरी कोरिया की सड़कों का दिखा नजारा
जब व्लादिमीर पुतिन उत्तरी कोरिया पहुंचे तो उनका स्वागत करने खुद किम जोंग उन रेड कार्पेट पर खड़े थे। पुतिन का गर्मजोशी से स्वागत हुआ, किम उन्हें कार तक छोड़ने आए। फिर जब पुतिन का काफिला गुजरा तो सड़कों पर पुतिन के पोस्टर नजर आए। ऐसा शायद ही पहली बार होगा जब तानाशाह की धरती पर किसी और नेता के पोस्टर लगे हों। एक इमारत पर लगे बैनर पर लिखा था, ‘हम रूसी संघ के राष्ट्रपति का गर्मजोशी से स्वागत करते हैं। इस दौरान उत्तरी कोरिया की सड़कें भी दिखीं। पुतिन का काफिला गगनचुंबी इमारतों के बीच गुजरा। फिर पुतिन होटल पहुंचे। 

सोशल मीडिया पर सामने आ रहे वीडियोज में पुतिन के स्वागत में उत्तरी कोरिया की सेना का प्रदर्शन भी दिखाई दिया। पुतिन और किम जोंग उन के बीच लंबी बातचीत भी हुई। ऐसा माना जा रहा है कि रूस और उत्तरी कोरिया के बीच हथियारों को लेकर बड़ी डील हो सकती है।

अमेरिका की टेंशन बढ़ाएंगे रूस और उत्तरी कोरिया
रूसी समाचार एजेंसियों की खबरों के मुताबिक, पुतिन ने कहा है कि दोनों देश अमेरिका के साथ बढ़ते टकराव के मद्देनजर प्रतिबंधों से निपटने के लिए मिलकर काम करना चाहते हैं। पुतिन की यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच विभिन्न समझौतों पर हस्ताक्षर होने की संभावना है। 

रूस ने 2022 में यूक्रेन में युद्ध शुरू किया था। पुतिन की यह यात्रा हथियारों के एक समझौते के बारे में बढ़ती चिंताओं के बीच हो रही है, जिसमें उत्तर कोरिया आर्थिक सहायता और प्रौद्योगिकी हस्तांतरण के बदले में यूक्रेन में रूस को बेहद जरूरी हथियार मुहैया कराता है