ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशखोजता था महिलाओं की आपत्तिजनक तस्वीरें, सिंगापुर में भारतीय मूल के शख्स की गंदी करतूत

खोजता था महिलाओं की आपत्तिजनक तस्वीरें, सिंगापुर में भारतीय मूल के शख्स की गंदी करतूत

Viral News: कम्प्यूटर मिसयूज एक्ट के तहत 26 साल के के ईश्वरन को दोषी पाया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, साल 2019 से लेकर 2023 के बीच उसने फिशिंग लिंक भेजकर 22 महिलाओं को शिकार बनाया।

खोजता था महिलाओं की आपत्तिजनक तस्वीरें, सिंगापुर में भारतीय मूल के शख्स की गंदी करतूत
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,सिंगापुरThu, 16 May 2024 07:50 AM
ऐप पर पढ़ें

सिंगापुर एयरफोर्स में काम कर चुके एक भारतीय मूल के शख्स को 11 महीने की सजा सुनाई गई है। उसपर महिलाओं के सोशल मीडिया खातों को हैक कर निजी तस्वीरें हासिल करने के आरोप लगे थे। खबर है कि उसने 4 सालों में 20 से ज्यादा महिलाओं को शिकार बनाया है। अदालत में सुनवाई के दौरान कई हैरान करने वाले खुलासे हुए हैं।

कैसे हासिल करता था तस्वीरें?
कम्प्यूटर मिसयूज एक्ट के तहत 26 साल के के ईश्वरन को दोषी पाया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, साल 2019 से लेकर 2023 के बीच उसने फिशिंग लिंक भेजकर 22 महिलाओं को शिकार बनाया और उनकी लॉगिन की जानकारी हासिल की। इसके जरिए ईश्वरन महिलाओं के सोशल मीडिया, क्लाउड सर्वर और ईमेल खातों में सेंध लगाता था।

परिचितों को ही बनाया निशाना
खबर है कि ईश्वरन परिचित महिलाओं को निशाना बनाता था। इसके अलावा वह उन महिलाओं की तलाश में भी रहता था, जिनकी ऑनलाइन तस्वीरें एडल्ट फोरम पर पोस्ट की गई हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अभियोजक पक्ष ने बताया है कि ईश्वरन खुद को 'मददगार नागरिक' बताकर महिलाओं को फिशिंग लिंक्स भेजता था, जिसके साथ मैसेज होता था कि उनकी निजी तस्वीरें ऑनलाइन पोस्ट की गई हैं। कुछ मामलों में ईश्वरन एक वेबसाइट का भी इस्तेमाल करता था, जिसके जरिए पीड़िता की सोशल मीडिया पर मौजूद जानकारी की मदद से लॉगिन डिटेल हासिल करने की कोशिश करता था।

क्या करता था निजी तस्वीरों का?
पीड़िताओं के अकाउंट की जानकारी मिलने के बाद वह उनकी निजी तस्वीरें खोजता था। इतना ही नहीं उसने कई बार पुरुषों के सोशल मीडिया खातों के जरिए महिलाओं से बातचीत कर निजी तस्वीरें मांगता था। कई पीड़िताओं को जब फिशिंग का एहसास हुआ, तो उन्होंने पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई।

अभियोजक पक्ष ने दोषी के लिए 11 से 16 महीने की जेल की मांग की थी। जबकि, बचाव पक्ष ने कहा था कि ईश्वरन पहली बार का अपराधी है और वह रिपब्लिक ऑफ सिंगापुर एयर फोर्स में इंजीनियर के तौर पर काम करता था। बचाव पक्ष ने कहा कि इन अपराधों के चलते उसे नौकरी में गंभीर परिणामों का सामना करना पड़ सकता है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें